Current Affairs Today In Hindi – 2 August 2018

हैलो दोस्तों, affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 2 अगस्त,2018  के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स  को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं । हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – 1 August 2018 

राष्ट्रीय समाचार

2 अगस्त, 2018 को कैबिनेट स्वीकृतियां:Cabinet_decisioni.मंत्रिमंडल ने विदेशों में रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण अवसंरचना परियोजनाओं के लिए बोली लगाने में भारतीय कंपनियों को समर्थन देने के लिए रियायती वित्त पोषण योजना (सीएफएस) की अवधि बढ़ाने की मंजूरी दी। सीएफएस के तहत भारत सरकार 2015-16 से ही विदेशों में रणनीतिक रूप से महत्‍वपूर्ण अवसंरचना परियोजनाओं के लिए बोली लगाने में भारतीय कंपनियों को समर्थन दे रही है। योजना का उद्देश्‍य लगातार प्रासंगिक बना हुआ है, इसलिए प्रस्‍ताव किया गया कि योजना को 2018 से 2023 तक यानी अगले पांच सालों तक के लिए बढ़ा दिया जाए। इस योजना के लिए कुल व्यय 625.63 करोड़ रुपये है।
ii.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल ने निम्‍नलिखित को मंजूरी दी है –
वित्‍त वर्ष 2018-19 के दौरान नाबार्ड के जरिए स्‍वच्‍छ भारत मिशन (ग्रामीण) {एसबीएम(जी)} के लिए अतिरिक्‍त बजट संसाधन (ईबीआर) (पूर्णरूपेण सरकारी सेवा बांड) के रूप में 15,000 करोड़ रुपये तक निधियों को बढ़ाना।
-अंतर्राष्‍ट्रीय पेयजल गुणवत्‍ता केन्‍द्र नामक सोसायटी के कार्य विस्‍तार को अधिकृत करना, एसबीएम(जी) के लिए ईबीआर निधियों को प्राप्‍त करना, राज्‍यों/केन्‍द्रशासित प्रदेशों की एजेंसियों के लिए आवंटन और उसका पुनर्भुगतान।
-‘अंतर्राष्‍ट्रीय पेयजल गुणवत्‍ता केन्‍द्र’ का नाम बदल कर ‘राष्‍ट्रीय पेयजल, स्‍वच्‍छता एवं गुणवत्‍ता केन्‍द्र’ किया जाना।
iii.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल ने शेल ऑयल/गैस, कोल बेड मीथेन इत्‍यादि जैसे गैर-पारंपरिक हाइड्रोकार्बन की खोज और दोहन के लिए नीति-रूपरेखा को मंजूरी दे दी है। मौजूदा रकबे में गैर-पारंपरिक हाइड्रोकार्बन की क्षमता का दोहन करने के संबंध में लाइसेंसधारी/पट्टाधारी मौजूदा ठेकेदारों को प्रोत्‍साहित करने के लिए वर्तमान उत्‍पादन साझेदारी संविदाओं, सीवीएम संविदाओं और नामित क्षेत्रों के तहत इसका अनुपालन किया जाएगा। इस नीति से वर्तमान संविदा क्षेत्रों में संभावित हाइड्रोकार्बन भंडारों के उपयोग के लिए क्षमता बढ़ेगी, जो अब तक खोजे नहीं गये थे और जिनका दोहन नहीं हुआ था। इस नीति के कार्यान्‍वयन से नयी हाइड्रोकार्बन खोजों के संबंध में अन्‍वेषण और उत्‍पादन गतिविधियों में नया निवेश तथा परिणामस्‍वरूप घरेलू उत्‍पादन में बढ़ोतरी की आशा की जाती है।
iv.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने हिन्‍दुस्‍तान कॉपर लिमिटेड (एचसीएल) द्वारा सेबी तथा अन्‍य मान्‍य निर्देशों के अनुसार क्‍वालिफाइड इंस्‍टीट्यूशनस प्‍लेसमेंट (क्‍यूआईपी) रूट से 15 प्रतिशत की प्रदत इक्विटी पूंजी तक पांच रुपये सममूल्‍य के 13,87,82700 इक्विटी शेयर जारी करने को अपनी मंजूरी दे दी है। इसके परिणामस्‍वरूप एचसीएल में भारत सरकार की हिस्‍सेदारी 76.05 प्रतिशत से घटकर 66.13 प्रतिशत रह जाएगी। इससे एचसीएल की प्रदत हिस्‍सा पूंजी वर्तमान 462.61 करोड़ रुपये से बढ़कर 532 करोड़ हो जाएगी। एचसीएल क्‍यूआईपी से प्राप्‍त धन का इस्‍तेमाल अपनी विस्‍तार योजना में करेगी। प्रस्‍तावित विस्‍तार योजना से लगभग 9300 व्‍यक्तियों के लिए रोजगार का अवसर प्राप्‍त होगा। एचसीएल की विस्‍तार योजनाएं मध्‍य प्रदेश, राजस्‍थान और झारखंड में हैं।
v.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में मंत्रिमंडल ने कृ‍षि वैज्ञानिक भर्ती बोर्ड (एएसआरबी) को मंजूरी दी है। एएसआरबी में अब तीन सदस्‍यों के स्‍थान पर चार सदस्‍य होंगे। बोर्ड में एक अध्‍यक्ष और तीन सदस्‍य होंगे। एएसआरबी तीन वर्षों की अवधि या 65 वर्ष की आयु पूर्ण करने, जो भी पहले हो, तक होगी। स्‍वायत्‍तता, गोपनीयता, उत्‍तरदायित्‍व और एएसआरबी के कारगर संचालन के उद्देश्‍य को ध्‍यान में रखते हुए उसे आईसीएआर से पृथक कर दिया जाएगा तथा कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्रालय के अधीन कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग से जोड़ दिया जाएगा।

असम ने अंतिम एनआरसी ड्राफ्ट जारी किया, 40 लाख भारत के ‘अवैध नागरिक’ घोषित:Assam releases final NRC draft, 40 lakh declared 'illegal citizens' of Indiai.31 जुलाई, 2018 को, असम सरकार ने असम के नागरिकों की राष्ट्रीय रजिस्ट्री (एनआरसी) का अंतिम मसौदा जारी किया।
ii.इसके के मुताबिक, कुल आवेदकों में से 3,29,91,384 (3.29 करोड़), 2,89,83,677 (2.9 करोड़) लोग नागरिकों राष्ट्रीय रजिस्टर में शामिल होने के योग्य पाए गए हैं।
iii.40.07 लाख जिन्होंने सूची में अपना नाम नहीं पाया है उन्हें ‘अवैध आप्रवासी’ घोषित कर दिया गया है।
iv.हालांकि, अंतिम मसौदे के आधार पर कोई निर्वासन नहीं होगा।
असम की आबादी के बारे में:
♦ इसकी कुल आबादी 32 मिलियन है।
♦ इसमें मुस्लिम आबादी एक तिहाई हिस्सा है जो इसे मुसलमानों का दूसरे सबसे ज्यादा प्रतिशत वाला राज्य बनाता है।
♦ एनआरसी पहली बार 1951 में तैयार किया गया था।

बीईई और एईईई द्वारा जारी राज्य ऊर्जा दक्षता तैयारी सूचकांक:
i.अगस्त, 2018 को, ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) और ऊर्जा कुशल अर्थव्यवस्था के लिए गठबंधन (एईईई) ने ‘राज्य ऊर्जा दक्षता तैयारी सूचकांक’ जारी किया।
ii.इसका उद्देश्य जागरूकता पैदा करना और ऊर्जा संरक्षण पहलों के लिए एक कार्य योजना विकसित करना है।
iii.यह नीति आयोग और बीईई का संयुक्त प्रयास है।
iv.यह विभिन्न क्षेत्रों में ऊर्जा दक्षता में सुधार के उद्देश्य से राज्य नीतियों और कार्यक्रमों का आकलन करता है।
v.सरकार की परफॉर्म अचीव एंड ट्रेड (पीएटी) योजना के तहत आने वाले ऊर्जा गहन उद्योगों के लिए ऊर्जा वार्तालाप दिशानिर्देशों का एक सेट जारी किया गया था।

सेवा भोज योजना: भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा शुरू की गई 325 करोड़ रुपये की नई योजनाSeva Bhoj Yojna new scheme worth Rs.325 crore launched by the Ministry of Culture, Government of Indiai.2 अगस्त, 2018 को, संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार ने नई योजना ‘सेवा भोज योजना’ शुरू की।
ii.वित्तीय वर्ष 2018-19 और 2019-20 के लिए योजना का कुल व्यय 325.00 करोड़ रुपये है।
iii.इसका उद्देश्य सीजीएसटी और आईजीएसटी को धार्मिक / धर्मार्थ संस्थानों को प्रतिपूर्ति करना है जो सार्वजनिक / भक्तों के लिए किसी भी भेदभाव के बिना मुफ्त में भोजन प्रदान करते हैं।
iv.वित्तीय सहायता / अनुदान के लिए आवेदन करने से कम से कम तीन साल पहले मंदिर, गुरुद्वारा, मस्जिद, चर्च, धर्मिक आश्रम, दरगाह, मठ आदि जैसे संस्थान मौजूद होने चाहिए।
v.और वो एक महीने में कम से कम 5000 लोगों को मुफ्त भोजन देते हो।
vi.धार्मिक / चैरिटेबल संस्थान पहले नीति आयोग के दर्पण पोर्टल के साथ पंजीकरण करेगा और अद्वितीय आईडी प्राप्त करेगा।
संस्कृति मंत्रालय:
राज्य मंत्री (आई / सी): महेश शर्मा।

वाणिज्य और उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा लांच किया गए जीआई के लिए लोगो, टैगलाइन:Logo, tagline for GI launched by Commerce and Industry Minister Suresh Prabhui.2 अगस्त, 2018 को वाणिज्य और उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने भौगोलिक संकेतों (जीआई) के लिए एक लोगो और टैगलाइन लॉन्च की।
ii.इसका उद्देश्य बौद्धिक संपदा अधिकारों (आईपीआर) के बारे में जागरूकता पैदा करना है।
iii.मंत्रालय ने जीआई के लिए एक लोगो और टैगलाइन डिजाइन करने के लिए एक प्रतियोगिता शुरू की थी। जीआई टैग के लिए नारा है: अविश्वसनीय भारत का अमूल्य खजाना।
iv.किसी उत्पाद पर एक जीआई टैग उत्पत्ति के स्थान से संबंधित गुणवत्ता और विशिष्टता का आश्वासन देता है।
v.जीआई टैग किए गए कुछ उत्पादों में से कुछ हैं: दार्जिलिंग चाय, तिरुपति लद्डू, कंगड़ा पेंटिंग्स, नागपुर संतरे और कश्मीर पश्मिना।
जीआई के बारे में:
एक भौगोलिक संकेत (जीआई) उत्पाद मुख्य रूप से एक कृषि, प्राकृतिक या एक निर्मित उत्पाद (हस्तशिल्प और औद्योगिक सामान) है जो एक निश्चित भौगोलिक क्षेत्र से उत्पन्न होता है।

नाबार्ड द्वारा हरियाणा में 8 जल परियोजनाओं के लिए 772 करोड़ रुपये मंजूर किए गए:
i.2 अगस्त, 2018 को, नाबार्ड ने हरियाणा के ग्रामीण इलाकों में आठ जल परियोजनाओं के लिए 722 करोड़ रुपये मंजूर किए।
ii.ये परियोजनाएं 256 गांवों और 72 बस्तियों को पानी की आपूर्ति करेंगी।
iii.इसके अतिरिक्त, राज्य सरकार ने वित्तीय सहायता के लिए नाबार्ड को 236.85 करोड़ रुपये की लागत के तीन और परियोजना प्रस्ताव भेजे हैं।
iv.वे 109 गांवों और नौ बस्तियों में पानी की आपूर्ति करेंगे।
v.शहरी क्षेत्रों में सीवरेज सीमैट के लिए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना बोर्ड द्वारा 72.10 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर 9 योजनाओं को मंजूरी दे दी गई है।
vi.राज्य सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट्स (एसटीपी) में 1,200 से 1,300 मिलियन लीटर प्रति दिन (एमएलडी) पानी का इलाज किया जा रहा था, जिनमें से केवल 30 से 50 एमएलडी पानी का पुन: उपयोग किया जा रहा था।
हरियाणा:
♦ मुख्यमंत्री: मनोहर लाल खट्टर।
♦ गवर्नर: कप्तान सिंह सोलंकी।
♦ राजधानी: चंडीगढ़।
♦ राष्ट्रीय उद्यान: कलेसर राष्ट्रीय उद्यान, सुल्तानपुर राष्ट्रीय उद्यान।

एमएसएमई ने पूरे भारत में 50 सौर चरखा क्लस्टर के कार्यान्वयन के लिए मिशन सौर चरखा लॉन्च किया:
i.सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय ने पूरे देश के 50 सौर चरखा कलस्टरों में सौर चरखा मिशन लागू करने के कार्यक्रम का शुभारंभ किया है।
ii.2018-2019 और 2019-2020 के दौरान इस योजना के लिए 550 करोड़ रुपये की धनराशि निर्धारित की गयी है।
iii.इस योजना से लगभग 1 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त होगा। यूएन एसएमई दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने 27 जून 2018 को इस मिशन का शुभारंभ किया था।
iv.इसके तहत 15 नए उपकरण कक्षों तथा प्रोद्योगिकी विकास केन्द्रों की स्थापना की जाएगी और 18 केन्द्रों का उन्नयन किया जाएगा।
v.इस परियोजना की अनुमानित लागत 2200 करोड़ रुपये है और इसमें विश्व बैंक द्वारा दिये गये 200 मिलियन डॉलर का ऋण शामिल है।

श्री पीयूष गोयल ने रेलवे में कार्यरत खिलाडि़यों के लिए नई प्रोत्‍साहन नीति को मंजूरी दी:Piyush Goyal Approves a New Promotion Policy for Railway Sportspersonsi.केन्‍द्रीय रेल, कोयला, वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्री श्री पीयूष गोयल ने रेलवे में कार्यरत खिलाडि़यों को प्रोत्‍साहन के लिए एक नई नीति को मंजूरी दी है।
ii.इसके तहत ओलंपिक खेलों में पदक जीतने वाले खिलाडि़यों के अलावा पद्मश्री से नवाजे जा चुके समस्‍त खिलाडि़यों और कोचों को भी अधिकारियों के रूप में पदोन्‍नत किया जाएगा।
iii.ओलंपिक खेलों में दो बार शिरकत कर चुके और एशियाई खेलों/राष्‍ट्रमंडल खेलों में पदक जीतने वाले खिलाडि़यों द्वारा इस दिशा में किए गए अथक प्रयासों को ध्‍यान में रखकर अब उन्‍हें अधिकारी रैंक में पदोन्‍नत करते हुए पुरस्‍कृत करने का निर्णय लिया गया है।
iv.इसके अलावा रेलवे में कार्यरत वे खिलाड़ी भी इसी तरह से पदोन्‍नति पाने के हकदार होंगे जो अर्जुन/राजीव गांधी खेल रत्‍न पुरस्‍कार जैसे अहम अवार्ड से नवाजे जा चुके हैं।
भारत में कुछ महत्वपूर्ण स्टेडियम:
♦ ए.चिदंबरम स्टेडियम – चेन्नई, तमिलनाडु
♦ नेहरू स्टेडियम – कोयंबटूर, तमिलनाडु
♦ एमजीआर रेस कोर्स स्टेडियम – मदुरै, तमिलनाडु

बैंकिंग और वित्त

मॉरीशस स्थित एसबीएम समूह के एसबीएम बैंक (भारत) को देश में संचालन करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक की मंजूरी मिली:Mauritius-based SBM Group the first foreign lender has received Reserve Bank of India’s approval to operate in the country as SBM Bank (India)i.2 अगस्त, 2018 को, आरबीआई ने स्टेट बैंक ऑफ मॉरीशस को देश में एसबीएम बैंक (भारत) के नाम पर पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक के माध्यम से देश में संचालन करने की मंजूरी दे दी है।
ii.इस तरह के अनुमोदन को प्राप्त करने वाला यह पहला बैंक है।
iii.बैंक एसबीएम समूह की सहायक कंपनी के रूप में काम करेगा जो 1994 से काम रहा है।
iv.वर्तमान में मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद और रामचंद्रपुरम में इसकी 4 परिचालन शाखाएं हैं।
v.यह 2019 तक कोलकाता, दिल्ली, बैंगलोर, पुणे, अहमदाबाद और जयपुर में 6 नई शाखाएं खोलकर अपने ऑपरेशन का विस्तार करेगा।
अन्य घोषणाएं:
सिंगापुर का डीबीएस बैंक एक और बैंक है जो पूरी तरह से स्वामित्व वाली सहायक कंपनी के रूप में अपनी 12 शाखाओं को परिवर्तित करके आरबीआई की मंजूरी के लिए इंतजार कर रहा है।

इंडियन बैंक ने एफसीएनआर (बी) जमा पर ब्याज दरों में संशोधन किया:
i.1 अगस्त 2018 को, भारतीय बैंक ने तत्काल प्रभाव से विदेशी मुद्रा अनिवासी (बैंकिंग) – एफसीएनआर (बी) जमा पर ब्याज दरों में संशोधन किया है।
एफसीएनआर (बी) जमा पर संशोधित ब्याज दरें निन्मलिखित है:
जमा अवधि                                      संशोधित ब्याज दर                                                पिछली ब्याज दर
1 साल और उससे अधिक लेकिन 2 साल से कम (यूएस डॉलर के मामले में) 3.68%                                3.59%
2 साल और उससे ऊपर, लेकिन 3 साल से कम   3.88%                                                            3.77%
3 साल और उससे अधिक लेकिन 4 साल से कम   3.97%                                                            3.89%
4 साल और उससे अधिक लेकिन 5 साल से कम   3.99%                                                            3.92%
5 साल तक                                             4%                                                                3.93%
इंडियन बैंक के बारे में:
♦ एमडी और सीईओ – किशोर खरात
♦ मुख्यालय – चेन्नई

रिजर्व बैंक ने नए ग्राहकों को लेने से फिनो पेमेंट्स बैंक को रोक दिया:
i.रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने मौजूदा खातों में जमा के संबंध में विसंगतियों को देखते हुए नए ग्राहकों को जोड़ने से फिनो पेमेंट्स बैंक को प्रतिबंधित कर दिया है।
ii.फिनो पेमेंट्स बैंक पर आरोप लगाया गया है कि जमा सीमा से संबंधित मानदंडों का उल्लंघन किया गया है।
iii.पेमेंट्स बैंकों के लिए आरबीआई के ऑपरेटिंग दिशानिर्देश बताते हैं कि, ग्राहकों के लिए कुल सीमा 1 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। यदि यह अधिक हो जाता है, तो अतिरिक्त राशि को ग्राहक द्वारा प्रदान किए गए किसी अन्य बैंक खाते में स्वचालित रूप से स्थानांतरित किया जाना चाहिए।
iv.हाल ही में, केवाईसी प्रक्रिया के उल्लंघन के बाद नए ग्राहकों को जोड़ने के लिए आरबीआई द्वारा पेटीएम पेमेंट्स बैंक को भी रोक दिया गया था।
फिनो पेमेंट्स बैंक के बारे में:
♦ एमडी और सीईओ – ऋषि गुप्ता
♦ स्थापित – 2017

बंधन बैंक बाजार पूंजीकरण में यस बैंक को पीछे छोड़ 7 वां सबसे मूल्यवान बैंक बना:
i.अगस्त 2018 को, बंधन बैंक ने यस बैंक के बाजार पूंजीकरण (एम-कैप) में पीछे छोड़ दिया और निजी क्षेत्र का छठा सबसे मूल्यवान बैंक और सातवां सबसे मूल्यवान सूचीबद्ध बैंक बना।
ii.840 अरब रुपये के बाजार पूंजीकरण (एम-कैप) के साथ बंधन बैंक ने 838 अरब रुपये वाले यस बैंक को पीछे छोड़ दिया है।
iii.1 अगस्त 2018 तक, एचडीएफसी बैंक, एसबीआई और कोटक महिंद्रा बैंक ने बाजार पूंजीकरण के आधार पर क्रमशः शीर्ष तीन पदों पर कब्जा कर रखा है।

व्यापार और अर्थव्यवस्था

मॉर्गन स्टेनली के अनुसार इस वित्त वर्ष में भारत की सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर 7.5% तक बढ़ जाएगी:India's GDP growth to rise to 7.5% this fiscal, says Morgan Stanleyi.मॉर्गन स्टेनली ने भविष्यवाणी की है कि इस वित्तीय वर्ष 2018 – 2019 में भारत का सकल घरेलू उत्पाद 7.5% तक बढ़ सकता है।
ii.मॉर्गन स्टेनली ने कहा कि, 2018-19 में इस वित्तीय वर्ष में भारत के जीडीपी की 7.5% बढ़ने की उम्मीद है, जबकि 2017-18 में यह 6.7% था।
iii.मॉर्गन स्टेनली की रिपोर्ट का अनुमान है कि उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) मुद्रास्फीति 4% के मुद्रास्फीति लक्ष्य से ऊपर और सकल घरेलू उत्पाद के 2.5% से नीचे चालू खाता घाटा है।
iv.मॉर्गन स्टेनली ने कहा कि, विकास वसूली मजबूत रहेगी। शुरुआत में इसे खपत और निर्यात द्वारा समर्थित किया जाएगा।
मॉर्गन स्टेनली के बारे में:
♦ अध्यक्ष और सीईओ – जेम्स पी.गोर्मन
♦ मुख्यालय – न्यूयॉर्क, संयुक्त राज्य अमेरिका

एनएचएआई 25,000 करोड़ रुपये के दीर्घकालिक असुरक्षित ऋण के लिए एसबीआई के साथ एमओयू पर हस्‍ताक्षर करेगी:
i.भारतीय राष्‍ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) को भारतीय स्‍टेट बैंक से 10 वर्षों के लिए 25,000 करोड़ रुपये का असुरक्षि‍त ऋण मिल रहा है जिसके तहत पुनर्भुगतान पर 3 साल का स्‍थगन होगा।
ii.यह किसी संस्‍थान द्वारा एक ही बार में एनएचएआई के लिए मंजूर की गई सर्वाधिक ऋण राशि है। यह एसबीआई द्वारा एक ही बार में किसी निकाय को मंजूर की गई सर्वाधिक दीर्घकालिक असुरक्षित ऋण राशि भी है।
iii.इसके बारे में एक समझौता ज्ञापन एसबीआई और एनएचएआई द्वारा 3 अगस्त 2018 को नई दिल्ली में हस्ताक्षरित किया जाएगा।
iv.एसबीआई द्वारा मंजूर किया गया ऋण असुरक्षित है। इसके तहत आरंभिक तीन वर्षों तक मूलधन के पुनर्भुगतान की कोई देनदारी नहीं है। तीन साल के बाद 14 समान छमाही किस्‍तों में पुनर्भुगतान किया जाएगा।
v.ऋण अदायगी के लिए तय अवधि 10 साल है। एनएचएआई बगैर किसी पुनर्भुगतान पेनाल्‍टी के ही किसी भी समय पुनर्भुगतान/निर्धारित समय से पहले भुगतान कर सकती है।
vi.25,000 करोड़ रुपये की कुल मंजूर राशि का वितरण 31 मार्च, 2019 से पहले कर दिया जाएगा। ब्‍याज दर एक माह के एमसीएलआर पर आधारित होगी। वास्‍तविक रूप में बकाया राशि पर देय ब्‍याज का भुगतान मासिक आधार पर किया जाएगा।
एनएचएआई (भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण) के बारे में:
♦ अध्यक्ष – युद्धवीर सिंह मलिक
♦ मुख्यालय – नई दिल्ली

पुरस्कार और सम्मान

फॉर्च्यून 500 सूची 2018 में 7 भारतीय कंपनियां शामिल, आरआईएल भारतीय निजी क्षेत्र में सबसे ऊपर:Fortune 500 list 2018 features 7 Indian companies; RIL tops in the Indian Private sectori.2 अगस्त, 2018 को, 7 भारतीय कंपनियों को फॉर्च्यून की 500 सूची 2018 में दुनिया की सबसे बडी कम्पनियों में सूचीबद्ध किया गया है।
ii.इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) भारत की सबसे ऊंची रैंकिंग कंपनी है जिसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीय लिमिटेड (आरआईएल) है।
iii.2018 में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) को 168 वां स्थान मिला है।
iv.आरआईएल भारत में निजी क्षेत्र की शीर्ष कंपनी है। यह 148 वे स्थान पर है।
v.ओएनजीसी 2018 में 197 वे स्थान पर है।
vi.एसबीआई को 2018 में 216 वां स्थान मिला है।
vii.टाटा मोटर्स 232 वे स्थान पर है।
viii.बीपीसीएल 314 वें स्थान पर है।
ix.राजेश एक्सपोर्ट्स ने 405 वां स्थान हासिल किया है।
फॉर्च्यून 500 सूची में शीर्ष 5 कम्पनी हैं:
रैंक            कंपनी
1             वॉलमार्ट
2            स्टेट ग्रिड
3       साइनोपेक ग्रुप (चीन)
4    चीन नेशनल पेट्रोलियम (चीन)
5          रॉयल डच शैल
फॉर्च्यून पत्रिका:
♦ कंपनी: मेरिडिथ कॉर्पोरेशन।
♦ स्थित: न्यूयॉर्क।

भारतीय मूल के गणितज्ञ अक्षय वेंकटेश ने प्रतिष्ठित फील्ड पदक जीता:Indian-origin mathematician Akshay Venkatesh wins prestigious Fields Medali.1 अगस्त 2018 को, भारतीय-ऑस्ट्रेलियाई गणितज्ञ अक्षय वेंकटेश को ब्राजील के रियो डी जेनेरो में गणितज्ञों की अंतर्राष्ट्रीय कांग्रेस में फ़ील्ड पदक से सम्मानित किया गया था।
ii.अक्षय वेंकटेश फील्ड पदक के 4 विजेताओं में से एक है। फील्ड पदक गणित के लिए नोबेल पुरस्कार के रूप में भी जाना जाता है।
iii.फील्ड पदक के अन्य 3 विजेता हैं:
कौचर बिरकर
पीटर स्कोलोज़
एलेसियो फिगली
iv.अक्षय वेंकटेश 36 साल के है। उनका जन्म नई दिल्ली में हुआ था। वर्तमान में, वह स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ रहे है। गणित में विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला में उनके योगदान के लिए उन्हें फ़ील्ड पदक से सम्मानित किया गया है।
v.उन्हें ओस्ट्रोस्की पुरस्कार, इंफोसिस पुरस्कार, सलेम पुरस्कार और शास्त्र रामानुजन पुरस्कार भी मिला है।
vi.फील्ड पदक के सभी चार विजेताओं को 15,000 कनाडाई डॉलर नकद पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

राष्ट्रपति ने 2013 से 2017 तक के लिए उत्कृष्ट संसदीय पुरस्कार प्रदान किए:
i.1 अगस्त 2018 को, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने 2013 से 2017 के लिए नई दिल्ली में उत्कृष्ट संसदीय पुरस्कार प्रस्तुत किए।
ii.उत्कृष्ट संसदीय पुरस्कार 2013 से 2017 तक उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए सर्वश्रेष्ठ संसद सदस्यों को प्रस्तुत किया गया था।
iii.पुरस्कार के विजेता नीचे सूचीबद्ध हैं:
पुरस्कार विजेता                 वर्ष
डॉ नज्मा हेपतुल्ला            2013
हुकुम देव नारायण            2014
गुलाम नबी आजाद           2015
दिनेश त्रिवेदी                 2016
भरतरुहरी महताब            2017

नियुक्तियां और इस्तीफे

दीपक पारेख को एचडीएफसी बोर्ड के गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में फिर से नियुक्त किया गया:
i.30 जुलाई 2018 को, दीपक पारेख को एचडीएफसी बोर्ड के एक गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में फिर से नियुक्त किया गया।
ii.इसके अलावा, जे.जे. ईरानी और केकी मिस्त्री की एचडीएफसी के बोर्ड के निदेशक के रूप में पुनः नियुक्ति हुई।
iii.उपेंद्र कुमार सिन्हा और जलज अश्विन दानी को भी स्वतंत्र निदेशकों के रूप में नियुक्त किया गया।
iv.एचडीएफसी ने दीपक पारेख की पुन: नियुक्ति के लिए एक विशेष प्रस्ताव शामिल किया है क्योंकि वह अक्टूबर 2019 में 75 साल से ज्यादा के हो जाएंगे।
एचडीएफसी बैंक के बारे में:
♦ एमडी – आदित्य पुरी
♦ मुख्यालय – मुंबई

आईआईएफएल म्यूचुअल फंड ने अनुप महेश्वरी को संयुक्त सीईओ और सीआईओ के रूप में नियुक्त किया:
i.31 अगस्त 2018 को, आईआईएफएल म्यूचुअल फंड ने अगस्त 2018 के मध्य से संयुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और मुख्य निवेश अधिकारी (सीआईओ) के रूप में अनुप महेश्वरी को नियुक्त किया।
ii.इससे पहले, अनुप महेश्वरी डीएसपी ब्लैकरोक निवेश प्रबंधकों के मुख्य निवेश अधिकारी थे। उन्होंने अप्रैल 2018 में डीएसपी ब्लैकरोक निवेश प्रबंधकों से इस्तीफा दे दिया था।
iii.आईआईएफएल म्यूचुअल फंड में अपने नए पद पर, वह म्यूचुअल फंड और वैकल्पिक निवेश निधि व्यवसायों के लिए निवेश और रणनीति पर काम करेंगे।
आईआईएफएल संपत्ति प्रबंधन के बारे में:
♦ मुख्य कार्यकारी अधिकारी और निधि प्रबंधक – प्रकाश सेठ
♦ कॉर्पोरेट कार्यालय – मुंबई

ऑस्कर केर्केता को रवांडा गणराज्य के लिए भारत का अगला उच्चायुक्त नियुक्त किया गया:
i.1 अगस्त 2018 को, ऑस्कर केर्केता को रवांडा गणराज्य के लिए भारत का अगला उच्चायुक्त नियुक्त किया गया।
ii.वर्तमान में, ऑस्कर केर्केता विदेश सेवा संस्थान (एफएसआई) में अतिरिक्त सचिव हैं।
iii.उन्हें रवांडा गणराज्य में भारत का अगला उच्चायुक्त नियुक्त किया गया है।
रवांडा के बारे में:
♦ अध्यक्ष – पॉल कागाम
♦ प्रधान मंत्री – एडोर्ड न्गिरेंते
♦ राजधानी – किगाली
♦ आधिकारिक भाषाएं – अंग्रेजी, फ़्रेंच, किन्नरवांडा, स्वाहिली
♦ मुद्रा – रवांडा फ्रैंक

महत्वपूर्ण दिन

प्रकृति संरक्षण दिवस: 28 जुलाई
i.प्रत्येक वर्ष 28 जुलाई को प्रकृति संरक्षण दिवस के रूप में मनाया जाता है।
ii.यह प्राकृतिक संसाधनों की रक्षा के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है।
iii.भारत ने प्रकृति को संरक्षित करने के लिए कुछ कदम उठाए हैं जैसे कि:
नवीकरणीय ऊर्जा में बदलाव: 2022 तक 175 जीडब्ल्यू बिजली हासिल करने का लक्ष्य।
योजनाएं जैसे: नगर वन उद्यान योजना, स्वच्छ भारत अभियान, प्रोजेक्ट टाइगर।