Current Affairs PDF Sales

Current Affairs Hindi Quiz – 18 January 2019

हेलो दोस्तों, affairscloud.com में ऑनलाइन Current Affairs 2018 प्रश्नोत्तरी में आपका स्वागत है। यहां हम वर्तमान मामलों में महत्वपूर्ण घटना पर क्विज बना रहे हैं, जो सभी बैंक परीक्षाओं और अन्य प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिए सामान्य है। Current Affairs Quiz से आपको प्रतियोगी परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Current Affairs Today 18 january 2019 हिंदी में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

1. 17 जनवरी 2019 को केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री, सुरेश प्रभु ने तीन दिवसीय 10 वें भारत रबर एक्सपो-2019 का उद्घाटन कहाँ किया?
1) नई दिल्ली
2) मुंबई
3) कोलकाता
4) चेन्नई
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) मुंबई
स्पष्टीकरण:
17 जनवरी, 2019 को, केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री, सुरेश प्रभु ने मुंबई में बॉम्बे प्रदर्शनी केंद्र में तीन दिवसीय 10 वें भारत रबर एक्सपो-2019 का उद्घाटन किया। उन्होंने घोषणा की कि 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के भारत के प्रयासों को सक्षम करने वाले क्षेत्र की उत्पादकता में सुधार के लिए जल्द ही एक राष्ट्रीय रबर नीति बनाई जाएगी। भारत रबर एक्सपो एशिया का सबसे बड़ा रबर एक्सपो है। यह आयोजन भारतीय कंपनियों को विदेशी कंपनियों के साथ मिलने और सहयोग करने का एक अनूठा अवसर प्रदान करता है।

2.गुड्स एंड सर्विसेस टैक्स (जीएसटी ) काउंसिल द्वारा गठित आठ सदस्यीय ग्रुप ऑफ मिनिस्टर (जीओएम) के प्रमुख का नाम क्या हैं?
1) सुधीर मुनगंटीवार
2) थॉमस इसाक
3) केरल के वित्त मंत्री
4) अमित मित्रा
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) सुधीर मुनगंटीवार
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी 2019 को, जीएसटी परिषद ने महाराष्ट्र राज्य के वित्त मंत्री, सुधीर मुनगंटीवार की अध्यक्षता में आठ सदस्यीय समूह मंत्री (जीओएम) का गठन किया है।
मंत्रियों के समूह की पूरी सूची निम्नलिखित हैं:

 नाम राज्य के साथ पदनाम
सुधीर मुनगंटीवार महाराष्ट्र राज्य के वित्त मंत्री
थॉमस इसाक केरल के वित्त मंत्री
अमित मित्रा पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री
 हिमंत बिस्वा सरमा असम के वित्त मंत्री
मनप्रीत सिंह बादल पंजाब के वित्त मंत्री
मौविन गोडिन्हो गोवा पंचायत मंत्री
कृष्णा बायर गौड़ा कर्नाटक के वित्त मंत्री
जारकर गामलिन अरुणाचल कर मंत्री


3. 16 जनवरी 2019 को प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और किस देश के बीच दिसंबर, 2018 में हस्‍ताक्षरित वीजा प्रबंधों की सुविधा से संबंधित समझौते को पूर्वव्यापी मंजूरी दी?
1) मालदीव
2) मिस्र
3) कुवैत
4) इंडोनेशिया
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) मालदीव
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी 2019 को प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और मालदीव के बीच दिसंबर, 2018 में हस्‍ताक्षरित वीजा प्रबंधों की सुविधा से संबंधित समझौते को पूर्वव्यापी मंजूरी दे दी है। वीजा प्रबंधों की सुविधा से संबंधित समझौते पर मालदीव के राष्‍ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान हस्‍ताक्षर किए गए थे। इस समझौते का उद्देश्‍य भारत और मालदीव के बीच जनता के आपसी संपर्क को और मजबूत बनाना है। इससे दोनों देशों के नागरिकों के लिए पर्यटन, इलाज, शिक्षा के साथ ही साथ कारोबार और रोजगार के उद्देश्‍य से एक दूसरे के यहां आना-जाना आसान हो जाएगा। यह समझौता पर्यटन, इलाज और सीमित कारोबारी उद्देश्‍य से 90 दिन की वीजा मुक्‍त यात्रा का प्रावधान करता है और इस प्रकार के वीजा मुक्‍त प्रवेश को आसानी से मेडिकल वीजा साथ ही साथ छात्रों के आश्रितों और एक दूसरे के क्षेत्र में रोजगार पाने की कोशिश करने वालों के वीजा में आसानी से परिवर्तित करने का भी प्रावधान करता है।

4. 17 जनवरी, 2019 को, अंतरिक्ष विभाग में राज्य मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहाँ भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के उन्नति कार्यक्रम के पहले बैच का उद्घाटन किया?
1) नई दिल्ली
2) हैदराबाद
3) बेंगलुरु
4) कोच्चि
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-3) बेंगलुरु
स्पष्टीकरण:
17 जनवरी, 2019 को, अंतरिक्ष विभाग में राज्य मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने बेंगलुरु, कर्नाटक में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के उन्नति कार्यक्रम के पहले बैच का उद्घाटन किया। उन्नति का पूर्ण रूप है: यूनीस्पेस नैनोसैटेलाइट असेंबली एंड ट्रेनिंग प्रोग्राम। यह संयुक्त राष्ट्र कार्यालय द्वारा बाहरी अंतरिक्ष मामलों के लिए संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय द्वारा पहल के रूप में शुरू किया गया है, जो कि बाह्य अंतरिक्ष के अन्वेषण और शांतिपूर्ण उपयोगों पर पहले संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन की 50 वीं वर्षगांठ मनाने के लिए है।

5. 10 जनवरी, 2019 को भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने किस अधिनियम के लिए अपनी सहमति दी?
1) सभी के लिए शिक्षा का अधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2019
2) बाल निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा अधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2019
3) स्कूल शिक्षा विनियम (संशोधन) अधिनियम, 2019
4) अनिवार्य स्कूल शिक्षा (संशोधन) अधिनियम, 2019
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) बाल निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा अधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2019
स्पष्टीकरण:
10 जनवरी, 2019 को भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने बाल निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा अधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2019 को अपनी सहमति दी। इसे 3 जनवरी, 2019 को संसद द्वारा पारित किया गया था। इसे 16 जनवरी, 2019 को भारत के राजपत्र में भी अधिसूचित किया गया है। पहले इसे राइट टू चिल्ड्रन टू फ्री एंड कंपल्सरी एजुकेशन एक्ट, 2009 कहा जाता था। निम्नलिखित परिवर्तन किए गए हैं: पांचवीं कक्षा में और आठवीं में नियमित परीक्षा होगी,यदि कोई बच्चा परीक्षा में असफल होता है, तो उसे अतिरिक्त निर्देश दिया जाएगा और परिणाम की घोषणा की तारीख से दो महीने की अवधि के भीतर पुन: परीक्षा के लिए अवसर प्रदान किया जाएगा। सरकार पुन: परीक्षा में असफल होने पर स्कूलों को पाँचवीं कक्षा में या आठवीं कक्षा में या बच्चे को रखने की अनुमति दे सकती है। प्रारंभिक शिक्षा पूरी होने तक किसी भी बच्चे को स्कूल से निष्कासित नहीं किया जाएगा।

6. 17 जनवरी 2019 को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर दो दिवसीय गांधीवादी पुनरुत्थान शिखर सम्मेलन का उद्घाटन कहाँ किया?
1) प्रयागराज, उत्तर प्रदेश
2) गांधीनगर, गुजरात
3) भोपाल, मध्य प्रदेश
4) कोच्चि, केरल
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) प्रयागराज, उत्तर प्रदेश
स्पष्टीकरण:
17 जनवरी 2019 को भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ नाथ कोविंद ने उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर तीन दिवसीय गांधीवादी पुनरुत्थान शिखर सम्मेलन का उद्घाटन किया। इसका समापन 19 जनवरी, 2019 को होगा। शिखर सम्मेलन का आयोजन परमार्थ निकेतन, हरिजन सेवक संघ और ग्लोबल इंटरफेथ डब्ल्यूएएस एलायंस द्वारा किया गया था। राष्ट्रपति ने कस्बे में महर्षि भारद्वाज की प्रतिमा का भी अनावरण किया। श्री कोविंद ने अरिल के परमार्थ निकेतन में विश्व शांति यज्ञ में भाग लिया।

7. 16 जनवरी 2019 को, प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल के निर्णय के अनुसार भारतीय निर्यात-आयात बैंक में नई पूंजी लगाने के लिए भारत सरकार कितने रुपये के पुनर्पूंजीकरण बांड जारी करेगी?
1) 2,000 करोड़ रुपये
2) 4,000 करोड़ रुपये
3) 6,000 करोड़ रुपये
4) 5,000 करोड़ रुपये
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-3) 6,000 करोड़ रुपये
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी 2019 को, प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल के निर्णय के अनुसार भारतीय निर्यात-आयात बैंक में नई पूंजी लगाने के लिए भारत सरकार 6,000 करोड़ रुपये के पुनर्पूंजीकरण बांड जारी करेगी। वित्त वर्ष 2018-19 में 4,500 करोड़ रुपये और वित्त वर्ष 2019-20 में 1,500 करोड़ रुपये की दो किस्तों के जरिए इक्विटी लगाई जाएगी। कैबिनेट ने एक्जिम बैंक की अधिकृत पूंजी को 10,000 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 20,000 करोड़ रुपये करने की मंजूरी दे दी है। पुनर्पूंजीकरण बांड सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को जारी किए जाएंगे। एक्ज़िम बैंक में पूंजी का जलसेक, जो भारत के लिए प्रमुख निर्यात ऋण एजेंसी है, वह पूंजी पर्याप्तता को बढ़ाने और बढ़ी हुई क्षमता के साथ भारतीय निर्यात का समर्थन करने में सक्षम होगा। इसके अलावा यह भारतीय कपड़ा उद्योगों का भी समर्थन करेगा और भारत की सक्रिय विदेश नीति और रणनीतिक इरादे के मद्देनजर भविष्य में जारी किए जाने वाले रियायती वित्त योजना (सीएफएस) में बदलाव और नए पत्र (एलओसी) के नए पत्रों की संभावना पर जोर देगा।

8. 4 जनवरी से 13 जनवरी 2019 तक भारतीय पैनोरमा फिल्म महोत्सव कहाँ आयोजित किया गया?
1) नई दिल्ली
2) मुंबई
3) कोलकाता
4) चेन्नई
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) नई दिल्ली
स्पष्टीकरण:
13 जनवरी, 2019 को, 10 दिवसीय भारतीय पैनोरमा फिल्म महोत्सव, जिसका उद्घाटन सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव, श्री अमित खरे द्वारा किया गया था, नई दिल्ली में सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम II में संपन्न हुआ, यह 4 जनवरी, 2019 को शुरू हुआ था। यह फिल्म समारोह निदेशालय, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा आयोजित किया गया था। उत्सव की शुरूआती फीचर फिल्म ‘ओलू’ थी, जिसका निर्देशन श्री शाजी एन करुण ने किया था। श्री आदित्य सुहास जम्भले द्वारा निर्देशित, महोत्सव की शुरुआती गैर-फीचर फिल्म ‘खारवास’ थी। इस फेस्टिवल में 26 फ़ीचर फ़िल्में और 21 नॉन फ़ीचर फ़िल्में दिखाई गईं। इसके अलावा, भारत के 49 वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में भारतीय पैनोरमा खंड के तहत चयनित सभी फिल्मों को महोत्सव के दौरान प्रदर्शित किया गया था।

9. प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 13 नए केंद्रीय विश्वविद्यालयों की स्थापना के लिए कितने करोड़ के खर्च के लिए अपनी मंजूरी दी है?
1) 3639.32 करोड़ रु
2) 4390.51 करोड़ रु
3) 5123.67 करोड़ रु
4) 2356.89 करोड़ रु
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) 3639.32 करोड़ रु
स्पष्टीकरण:
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 13 नए केंद्रीय विश्वविद्यालयों की स्थापना के लिए रु 3639.32 करोड़ के खर्च के लिए अपनी मंजूरी दे दी है, जिसका काम 36 महीने की अवधि के भीतर पूरा किया जाएगा। मंत्रिमंडल ने इसके अलावा 474.65 करोड़ की राशि के लिए पूर्व-पश्चात स्वीकृति प्रदान की है, जो इन केंद्रीय विश्वविद्यालयों के लिए रु 3000 करोड़ की पूर्व की कैबिनेट मंजूरी से अधिक और ऊपर खर्च की गई राशि है। इन विश्वविद्यालयों के निर्माण की कुल अनुमानित लागत 8,113 करोड़ रुपये होगी। निर्णय से शैक्षिक सुविधाओं में क्षेत्रीय असंतुलन को कम करने के अलावा उच्च शिक्षा तक पहुंच बढ़ेगी। यह अन्य विश्वविद्यालयों को भी अपने मानकों में सुधार करने के लिए प्रोत्साहित करेगा। केंद्रीय विश्वविद्यालयों अधिनियम, 2009 के तहत स्थापित किए गए नए केंद्रीय विश्वविद्यालय बिहार, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर (दो), झारखंड, कर्नाटक, केरल, उड़ीसा, पंजाब, राजस्थान और तमिलनाडु राज्यों में स्थित हैं।

10.16 जनवरी, 2019 को नेशनल एकेडमी ऑफ म्यूजिक, डांस एंड ड्रामा और किसके द्वारा वेबकैंप के दूसरे चरण ‘सांझी- मुझ में कलाकार’को लॉन्च किया?
1) कलाक्षेत्र
2) संगीत नाटक अकादमी
3) सृष्टि नाट्यलय
4) संगीत पाठशाला
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) संगीत नाटक अकादमी
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को नेशनल एकेडमी ऑफ म्यूजिक, डांस एंड ड्रामा, संगीत नाटक अकादमी ने वेबकैंप के दूसरे चरण ‘सांझी- मुझ में कलाकार’को लॉन्च किया। इस अभियान का उद्देश्य देश की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत और विविध सांस्कृतिक परंपराओं में प्रत्यक्ष जन-भागीदारी को बढ़ावा देना है। सांझी शब्द का शाब्दिक अर्थ है ‘साझा करना’ और ‘भागीदार बनाना’। इस अभियान का दूसरा चरण, ‘सांझी- मुझ में कलाकार’, मुख्य रूप से जैसे- लोक, पारंपरिक, प्रथागत, सामाजिक घटनाओं और कर्मकांडों के कला रूपों में केंद्रित होगा। यह दूसरा चरण जनवरी के फसल त्योहार के मौसम के समय पर केंद्रित होगा, जिसे मकर संक्रांति, पोंगल, लोहड़ी, भोगली बिहू, तोरग्य, उत्तरायण, अट्टुकल चोंगल आदि जैसे कई नामकरणों से जाना जाता है।

11.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कुल 4,241.97 करोड़ की लागत से आयकर विभाग के एकीकृत ई-फाइलिंग और केंद्रीकृत प्रसंस्करण केंद्र 2.0 परियोजना के विकास को मंजूरी दी। इसे किस कंपनी द्वारा लागू किया जाएगा?
1) विप्रो
2) एचसीएल
3) इन्फोसिस
4) आईबीएम
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-3)इन्फोसिस
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी 2019 को, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अगली पीढ़ी के आयकर दाखिल और प्रसंस्करण केंद्र यानी एकीकृत ई-फाइलिंग और केंद्रीकृत प्रसंस्करण केंद्र 2.0 प्रोजेक्टो आयकर विभाग के विकास के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। परियोजना की कुल लागत 4,241.97 करोड़ होगी और इसे आईटी प्रमुख इंफोसिस द्वारा लागू किया जाएगा जिसे बोली प्रक्रिया के बाद चुना गया है। इस परियोजना के 18 महीने में पूरा होने की उम्मीद है और इसे 3 महीने के परीक्षण के बाद लॉन्च किया जाएगा। नई प्रणाली करदाताओं की बैंक खाते में सीधे रिटर्न की वापसी और जारी करने की प्रक्रिया को तेज करने के अलावा निरंतर कर के माध्यम से करदाताओं की जागरूकता और शिक्षा को बेहतर बनाने में मदद करेगी। यह प्रौद्योगिकी के माध्यम से व्यवसाय परिवर्तन के प्रति विभाग के लक्ष्य को जारी रखना सुनिश्चित करेगा। वर्तमान में 63 दिनों का आयकर रिटर्न (आईटीआर) का प्रसंस्करण समय परियोजना के कार्यान्वयन के 1 दिन बाद घट जाएगा। इसके अलावा कैबिनेट ने 2018-19 तक मौजूदा सीपीसी-आईटीआर 1.0 परियोजना के लिए 1,482.44 करोड़ रुपये की समेकित लागत को भी मंजूरी दी हैं।

12. 16 जनवरी, 2019 को वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने अपनी वार्षिक ग्लोबल रिस्क रिपोर्ट का कौन सा संस्करण जारी किया?
1) 2
2) 4
3) 6
4) 14
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-4) 14
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने अपना वार्षिक ग्लोबल रिस्क रिपोर्ट 2019, 14 वां संस्करण जारी किया। रिपोर्ट की मुख्य विशेषताएं:
प्रमुख-शक्ति राजनीतिक टकराव के जोखिम आसन्न हैं। जोखिम तेज होने के साथ, उनसे निपटने की सामूहिक इच्छाशक्ति की कमी है। तीसरे वर्ष के लिए सूची में पर्यावरणीय खतरे हावी हैं – प्रभाव और संभावना दोनों के संदर्भ में। ‘जलवायु-परिवर्तन शमन और अनुकूलन की विफलता’ – संभावना और प्रभाव दोनों की सूची में दूसरे स्थान पर है। साइबर-अटैक दोनों में शीर्ष 10 में, संभावना के लिए नंबर पांच पर और प्रभाव के लिए सात पर हैं, जबकि डेटा धोखाधड़ी संभावना के लिए चौथे नंबर पर है, प्रौद्योगिकी के रूप में एक समग्र प्रवृत्ति को दर्शाते हुए जोखिम परिदृश्य को आकार देता है। सामाजिक जोखिम के संदर्भ में, पानी की कमी, उपलब्ध गुणवत्ता और ताजे पानी की मात्रा को महत्वपूर्ण गिरावट के रूप में परिभाषित किया गया है, जिसके परिणामस्वरूप मानव स्वास्थ्य और आर्थिक गतिविधि पर हानिकारक प्रभाव भी पड़ा है। रिपोर्ट 2019 में आगे बढ़ने वाले व्यापक आर्थिक जोखिमों की चेतावनी भी देती है।

13. 16 जनवरी, 2019 को, भारतीय रिजर्व बैंक ने घोषणा की कि वह खुले बाजार के संचालन (ओएमओ) के माध्यम से तरलता बढ़ाने के लिए _________ रुपये की व्यवस्था करेगा?
1) 10,000 करोड़ रु
2) 25,000 करोड़ रु
3) 15,000 करोड़ रु
4) 30,000 करोड़ रु
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) 10,000 करोड़ रु
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, भारतीय रिजर्व बैंक ने घोषणा की कि वह खुले बाजार के संचालन (ओएमओ) के माध्यम से तरलता बढ़ाने के लिए 10,000 करोड़ रुपये की व्यवस्था करेगा। ऑफ़र को आरबीआई कोर बैंकिंग सॉल्यूशन (ई-कुबेर) प्रणाली पर इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। इसने जनवरी 2019 में 50,000 करोड़ रुपये के लिए ओएमओ के तहत तरलता के निवेश की योजना बनाई है। केंद्रीय बैंक ने अब तक जनवरी 2019 में ओएमओ के माध्यम से 20,000 करोड़ रुपये निवेश किए है।

14. 16 जनवरी, 2019 को, भारतीय रिज़र्व बैंक ने नो-योर कस्टमर दिशानिर्देशों और धोखाधड़ी-वर्गीकरण मानदंडों का पालन न करने के लिए राज्य के स्वामित्व वाले बैंक ऑफ महाराष्ट्र पर कितने रुपये का जुर्माना लगाया?
1) 2 करोड़ रुपये
2) 3 करोड़ रुपये
3) 1 करोड़ रुपये
4) 4 करोड़ रुपये
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-3) 1 करोड़ रुपये
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, भारतीय रिज़र्व बैंक ने नो-योर कस्टमर दिशानिर्देशों और धोखाधड़ी-वर्गीकरण मानदंडों का पालन न करने के लिए राज्य के स्वामित्व वाले बैंक ऑफ महाराष्ट्र पर 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया। आरबीआई द्वारा जारी नियमों और विनियमन का पालन करने में बैंक की विफलता पर जुर्माना लगाया गया है। आरबीआई ने वर्ष 2018 में खातों में धोखाधड़ी का पता लगाने और रिपोर्ट करने के लिए बैंक की ओर से देरी के कारण बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र पर 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था।

15. 16 जनवरी 2019 को भारतीय रिज़र्व बैंक ने अपने नए बाहरी वाणिज्यिक उधार (ईसीबी) फ्रेमवर्क में प्रति वर्ष कितने रुपये की एक समान उधार सीमा की अनुमति देते हुए विदेशी उधार मानदंडों को युक्तिसंगत बनाया है?
1) 250 मिलियन
2) 400 मिलियन
3) 500 मिलियन
4) 750 मिलियन
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-4) 750 मिलियन
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को आरबीआई ने नए बाहरी वाणिज्यिक उधार (ईसीबी) ढांचे की घोषणा की। इस कदम का उद्देश्य व्यापार करने में आसानी को बढ़ावा देना हैं। घोषणा के अनुसार, कुछ बदलाव किए गए हैं। वो निम्नलिखित हैं: आरबीआई ने विदेशी ऋण लेने के मानदंडों को युक्तिसंगत बनाया है, जिसमें वर्ष में 750 मिलियन वर्ष की एक समान उधार सीमा की अनुमति दी गई है। ईसीबी ढांचे के तहत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश प्राप्त करने के लिए पात्र सभी संस्थाओं को सक्षम करने के लिए पात्र उधारकर्ताओं की सूची का विस्तार किया गया है। कोई भी संस्था जो किसी ऐसे देश का निवासी है जो एफएटीएफ है, को एक मान्यता प्राप्त ऋणदाता के रूप में माना जाएगा। इस अवधि में उधारदाताओं के लिए ऋण देने के विकल्प बढ़ जाते हैं। सभी ईसीबी के लिए न्यूनतम औसत परिपक्वता अवधि (एमएमपी) 3 वर्ष पर रखी गई है, भले ही उधार की राशि के बावजूद, उधारकर्ताओं को विशेष रूप से कम अवधि के लिए उधार लेने के लिए परिपत्र में अनुमति दी गई हो। ईसीबी ढांचे के तहत निर्धारित रिपोर्टिंग में देरी के लिए एक देर से जमा शुल्क पेश किया गया है।

16. 17 जनवरी 2019 को एक फिच समूह की कंपनी इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने अनुमान लगाया कि वित्त वर्ष 2019-20 में भारत की जीडीपी वृद्धि ______पर ‘उच्चतर’ होगी?
1) 7.5%
2) 7.4%
3) 7.6%
4) 7.3%
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-1) 7.5%
स्पष्टीकरण:
17 जनवरी 2019 को एक फिच समूह की कंपनी इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने अनुमान लगाया कि वित्त वर्ष 2019-20 में भारत की जीडीपी वृद्धि 7.5% पर ‘उच्चतर’ होगी। इससे पहले वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान यह 7.2% थी। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा अनुमानित पिछले वर्ष के 6.7% के मुकाबले अर्थव्यवस्था ने चालू वित्त वर्ष में 7.2% की वृद्धि दर देखी। भारत की रेटिंग के अनुसार निवेश धीमा है, लेकिन वित्त वर्ष 2016 में सकल स्थिर पूंजी निर्माण के साथ स्थिर लाभ 12.2% बढ़ रहा है और वित्त वर्ष 2015 में 10.3% बढ़ने का अनुमान है। फिच रेटिंग के अनुसार चालू वित्त वर्ष में विमुद्रीकरण और जीएसटी (गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स) के बाद तेज रिकवरी देखी गई है।

17. भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने 16 जनवरी 2019 को कमोडिटी इंडेक्स-आधारित फ्यूचर्स में ट्रेडिंग की अनुमति देने वाले कमोडिटी सूचकांकों के लिए ड्राफ्ट मानदंड जारी किया। इसने एक घटक के लिए ____% और न्यूनतम 1% का अधिकतम भार प्रस्तावित किया है?
1) 25%
2) 20%
3) 45%
4) 50%
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) 20%
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी 2019 को, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने कमोडिटी इंडेक्स के लिए ड्राफ्ट मानदंड जारी किया, जो कि कमोडिटी-इंडेक्स-आधारित फ्यूचर्स में व्यापार की अनुमति देता है। केवल व्यक्तिगत कमोडिटी फ्यूचर्स और उस पर विकल्पों की अनुमति दी गई थी,केवल कुछ शर्तों के अनुपालन वाले अनुबंधों को सूचकांकों का हिस्सा बनने दिया जाएगा। सेबी ने एक घटक के लिए अधिकतम 20% और न्यूनतम 1% का प्रस्ताव दिया। ड्राफ्ट मानदंडों के अनुसार, अनुबंधों को पिछले 12 महीनों में कम से कम 90% व्यापारिक दिनों के लिए कारोबार करना चाहिए और उनके पास दैनिक औसत कारोबार होना चाहिए,कृषि और कृषि-प्रसंस्कृत वस्तुओं के लिए टर्नओवर कम से कम 75 करोड़ रुपये और अन्य सभी वस्तुओं के लिए 500 करोड़ रुपये होना चाहिए। किसी अनुक्रमणिका को फिर से संतुलित करने से पहले संबंधित अनुबंधों को कम से कम 12 महीनों के लिए विशेष विनिमय में व्यापार करना चाहिए। शुरू में अनुबंधों का कार्यकाल कम से कम 5 लाख रुपये के अनुबंध के साथ छह महीने का हो सकता है। मसौदा मानदंड 3 साल पहले सेबी द्वारा निर्धारित कमोडिटी डेरिवेटिव्स एडवाइजरी कमेटी (सीडीएसी) द्वारा की गई सिफारिशें हैं।

18.किसी स्कीम द्वारा लिखे गए कॉल विकल्पों का कुल संवैधानिक मूल्य सेबी द्वारा जारी डेरिवेटिव में म्यूचुअल फंड निवेश के मानदंडों के अनुसार उस स्कीम में रखे गए इक्विटी शेयरों के कुल बाजार मूल्य के प्रतिशत से कितना अधिक नहीं होगा?
1) 20%
2) 30%
3) 10%
4) 15%
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-4) 15%
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, बाजार नियामक सेबी ने म्यूचुअल फंड योजनाओं (इंडेक्स फंड्स और ईटीएफ को छोड़कर) को केवल निफ्टी 50 और सेंसेक्स सूचकांकों के घटक शेयरों के लिए एक कवर कॉल रणनीति के तहत कॉल विकल्प लिखने की अनुमति दी। घोषणा में निम्नलिखित शामिल हैं: किसी योजना द्वारा लिखे गए कॉल विकल्पों का कुल संवैधानिक मूल्य उस योजना में रखे गए इक्विटी शेयरों के कुल बाजार मूल्य का 15 प्रतिशत से अधिक नहीं होगा। कॉल विकल्प में अंतर्निहित शेयरों की कुल संख्या योजना में आयोजित किसी विशेष कंपनी के शेयरों के 30 प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए। अंतर्निहित इक्विटी शेयरों को पकड़े बिना कोई भी योजना कॉल विकल्प नहीं लिखेगी। लिखित विकल्प को दैनिक रूप से बाजार में चिह्नित किया जाना चाहिए और संबंधित लाभ या हानि को संबंधित योजना के दैनिक शुद्ध संपत्ति मूल्य में विभाजित किया जाना चाहिए जब तक कि स्थिति बंद या समाप्त नहीं हो जाती। उसी के जोखिम और लाभ का खुलासा योजना सूचना दस्तावेज में किया जाना चाहिए।

19. 17 जनवरी, 2019 को, किस को 2018 के लिए गांधी शांति पुरस्कार प्राप्त करने के लिए नामित किया गया?
1) ली विन शुई
2) योही ससाकावा
3) एडम गिलवर्थ
4) स्टीफन गोथम
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) योही ससाकावा
स्पष्टीकरण:
17 जनवरी, 2019 को, योही ससाकावा को 2018 के लिए गांधी शांति पुरस्कार प्राप्त करने के लिए नामित किया गया था, जो कुष्ठ उन्मूलन के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन के सद्भावना राजदूत हैं। यह पुरस्कार 1995 में भारत सरकार द्वारा महात्मा गांधी की 125 वीं जयंती के उपलक्ष्य में स्थापित किया गया था। इस खिताब के विजेताओं को 1 करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। भारत सरकार ने 1995 में गैर-हिंसा और अन्य गांधीवादी तरीकों के माध्यम से सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक परिवर्तन के लिए उनके योगदान के लिए व्यक्तियों और संस्थानों को सम्मानित करने के लिए पुरस्कार की स्थापना की थी। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्रमोदी की अध्यक्षता में समिति में भारत के मुख्य न्यायाधीश, न्यायमूर्ति रंजन गोगोई (45 वें मुख्य न्यायाधीश), लोक सभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन, लोकसभा में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के नेता श्री मल्लिकार्जुनकार्ज और संसद सदस्य श्री एल.के. आडवाणी ने विशिष्ट क्षेत्रों में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए संगठन और व्यक्तियों का चयन करने का निर्णय लिया।

20. भारतीय में जन्मे किस प्रोफेसर की जापान पुरस्कार फाउंडेशन द्वारा ‘जैविक उत्पादन, पारिस्थितिकी’ के क्षेत्र में 2019 जापान पुरस्कार के विजेता के रूप में घोषणा की गई थी?
1) डॉ मिश्रा दुबे
2) डॉ रतन लाल
3) डॉ रवीना सिंह
4) डॉ मिथुन खन्ना
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) डॉ रतन लाल
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, जापान पुरस्कार फाउंडेशन ने भारत के प्रोफेसर डॉ रतन लाल को ‘जैविक उत्पादन, पारिस्थितिकी’ के क्षेत्र में 2019 जापान पुरस्कार के प्राप्तकर्ता के रूप में उनके नाम की घोषणा की। डॉ योशियो ओकामोटो को ‘सामग्री और उत्पादन’ क्षेत्र पर 2019 जापान पुरस्कार के प्राप्तकर्ता के रूप में घोषित किया गया था। प्रत्येक पुरस्कार विजेता को मान्यता प्रमाणपत्र और स्मारक स्वर्ण पदक प्राप्त होगा। प्रत्येक पुरस्कार क्षेत्र में 50 मिलियन जापानी येन का नकद पुरस्कार भी दिया जाएगा।

21. 16 जनवरी, 2019 को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और _____ को सर्वोच्च न्यायालय में पदोन्नति की मंजूरी दी?
1) न्यायमूर्ति संदीप वैष्णव
2) न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी
3) न्यायमूर्ति विनोद मिश्रा
4) न्यायमूर्ति रूपा मलिक
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी को सर्वोच्च न्यायालय में पदोन्नति की मंजूरी दी। जस्टिस खन्ना वर्तमान में दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश हैं। जस्टिस माहेश्वरी कर्नाटक उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश हैं। भारत के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अध्यक्षता में उच्चतम न्यायालय के कॉलेजियम की सिफारिशों के तहत उन्नयन किया गया। दो जजों की नियुक्तियों ने सुप्रीम कोर्ट में जजों की कुल संख्या को 28 कर दिया।

22. 16 जनवरी 2019 को सुप्रीम कोर्ट के लिए भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल के रूप में किसे नियुक्त किया गया?
1) रुजुता सेन
2) संजय जैन
3) आदि जैन
4) अर्पित कुमार
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-2) संजय जैन
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने वरिष्ठ अधिवक्ता संजय जैन को सुप्रीम कोर्ट के लिए भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल के रूप में नियुक्त किया। वह 30 जून, 2020 तक इस पद पर रहेंगे। कानून अधिकारी अधिनियम 1987 के तहत नियुक्त अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल, केंद्र सरकार का तीसरा सबसे बड़ा कानून अधिकारी है। भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वरिष्ठ अधिवक्ता के.एम.नटराज को भारत के सर्वोच्च न्यायालय में अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल (एएसजी) के रूप में नियुक्त किया। उनका कार्यकाल भी 30 जून, 2020 को समाप्त हो जाएगा। उन्होंने 2009 से चार साल के लिए कर्नाटक के अतिरिक्त महाधिवक्ता के रूप में और 03 साल की अवधि के लिए दक्षिणी क्षेत्र के लिए भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल के रूप में भी पद संभाला।

23. 16 जनवरी, 2019 को, मानवाधिकारों के लिए समर्पित दुनिया का पहला टेलीविज़न चैनल इंटरनेशनल ऑब्ज़र्वेटरी ऑफ़ ह्यूमन राइट्स द्वारा कहाँ लॉन्च किया गया?
1) नई दिल्ली, भारत
2) न्यूयॉर्क, संयुक्त राज्य अमेरिका
3) लंदन, यूनाइटेड किंगडम
4) सिडनी, ऑस्ट्रेलिया
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-3) लंदन, यूनाइटेड किंगडम
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, मानवाधिकारों के लिए समर्पित दुनिया का पहला टेलीविज़न चैनल इंटरनेशनल ऑब्ज़र्वेटरी ऑफ़ ह्यूमन राइट्स द्वारा लंदन में लॉन्च किया गया। यह एक वेब-आधारित चैनल होगा जो यूरोप, लैटिन अमेरिका और मध्य पूर्व के 20 से अधिक देशों में दर्शकों के लिए मानवाधिकार मुद्दों को लाएगा। स्वाभाविक रूप से कार्यक्रम अंग्रेजी में प्रसारित किए जाएंगे लेकिन फारसी, तुर्की, अरबी और रूसी सहित अन्य भाषाओं को भविष्य में शामिल किया जाएगा। इसके अलावा, चैनल के लिए एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया जाएगा।

24. दिसंबर 2018 में किस राज्य में कासानूर वन रोग (केएफडी),जिसे बंदर बुखार के रूप में भी जाना जाता है, के नए मामलों को देखा गया??
1) मध्य प्रदेश
2) हरियाणा
3) बिहार
4) कर्नाटक
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-4) कर्नाटक
स्पष्टीकरण:
दिसंबर 2018 में सागर तालुक के अरलगोडु ग्राम पंचायत सीमा से कसानूर वन रोग (केएफडी), जिसे बंदर बुखार के रूप में भी जाना जाता है, के दो सकारात्मक मामलों को देखा गया। अरलगोडु की 40 वर्षीय महिला और एक 29 वर्षीय व्यक्ति के रक्त के नमूने ने केएफडी के लिए सकारात्मक परीक्षण दिया है। दोनों को इलाज के लिए शिवमोग्गा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज से जुड़े एक सरकारी अस्पताल, मैकगैन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके स्वास्थ्य पर कड़ी नजर रखी जा रही है। केएफडी एक टिक-जनित वायरल संक्रमण है जो बंदरों के काटने से मनुष्यों में फैलता है। तेज बुखार, जोड़ों में दर्द और मसूड़ों में खून आना कुछ इस बीमारी के लक्षण हैं। 2017 में, जिले में केएफडी के कारण चार की मृत्यु हो गई और इस अवधि के दौरान 48 सकारात्मक मामले सामने आए। कई मामलों में, जो लोग जंगलों में आग लगाने या अपने मवेशियों को चराने के लिए उद्यम करते हैं, वे टिक के काटने के माध्यम से बीमारी के संपर्क में आते हैं।

25. 16 जनवरी, 2019 को जॉन सी बोगल का निधन हो गया। वह एक ____ थे?
1) राजनेता
2) गायक
3) अभिनेता
4) व्यवसायी
5) इनमें से कोई नहीं

उत्तर-4) व्यवसायी
स्पष्टीकरण:
16 जनवरी, 2019 को, जॉन सी बोगल, जिन्होंने 1974 में वैनगार्ड ग्रुप ऑफ इन्वेस्टमेंट कंपनीज की स्थापना की और प्रबंधन के तहत संपत्ति में $ 4.9 ट्रिलियन के साथ एक विशाल साम्राज्य का निर्माण किया, का 89 वर्ष की आयु में निधन हो गया। बोगल एक सबसे अधिक बिकने वाले लेखक भी थे,स्टे द कोर्स: द स्टोरी ऑफ़ वैनगार्ड और इंडेक्स रेवोल्यूशन उनके द्वारा लिखे गए हालिया और अंतिम मास्टर पीस हैं।

करंट अफेयर्स से स्टेटिक G.K प्रश्न:

भारत के मुख्य न्यायाधीश कौन हैं?

उत्तर-न्यायमूर्ति रंजन गोगोई

सेबी (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड) के अध्यक्ष का नाम क्या हैं?

उत्तर – अध्यक्ष – अजय त्यागी, मुख्यालय – मुंबई, महाराष्ट्र

सांडी पक्षी अभयारण्य कहाँ स्थित है?

उत्तर – उत्तर प्रदेश

मालदीव की राजधानी और मुद्रा क्या है?

उत्तर – राजधानी – माले, मुद्रा – मालदीवियन रूफिया

विश्व आर्थिक मंच के कार्यकारी अध्यक्ष कौन हैं?

उत्तर – श्री क्लॉस श्वाब