Current Affairs PDF

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 पुरस्कार: इंदौर 5वीं बार बना भारत का सबसे स्वच्छ शहर

AffairsCloud YouTube Channel - Click Here

AffairsCloud APP Click Here

Swachh Survekshan 2021 awardनवंबर 2021 में, भारत के राष्ट्रपति, राम नाथ कोविंद ने विज्ञान भवन, नई दिल्ली में मिनिस्ट्री ऑफ़ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स (MoHUA) द्वारा स्वच्छ भारत मिशन-शहरी 2.0 (SBM-U 2.0) के हिस्से के रूप में आयोजित ‘स्वच्छ अमृत महोत्सव’ में भारत के सबसे स्वच्छ शहरों के पुरस्कार विजेताओं को सम्मानित किया।

  • मिनिस्ट्री ऑफ़ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स (MoHUA) अब स्वच्छ भारत मिशन-शहरी (SBM-U) के अंतर्गत सभी शहरों को भारतीय गुणवत्ता परिषद (QCI) के साथ इसके कार्यान्वयन भागीदार के रूप में रैंक करने के लिए सर्वेक्षण के छठे संस्करण का संचालन करने की प्रक्रिया में है।
  • स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) की विभिन्न पहलों जैसे स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 (SS 2021)– 6वां संस्करण SS 2021, सफाईमित्र सुरक्षा चुनौती, और शहरों के लिए कचरा मुक्त स्टार रेटिंग के लिए प्रमाणन के अंतर्गत कस्बों / शहरों, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (UT) द्वारा स्वच्छता के लिए किए गए कार्यों को मान्यता देने के लिए पुरस्कार समारोह का आयोजन किया गया था।
  • विभिन्न श्रेणियों के अंतर्गत 300 से अधिक पुरस्कार दिए गए।

प्रमुख बिंदु:

i.लगातार 5वें वर्ष, इंदौर, मध्य प्रदेश (MP) को SS 2021 के अंतर्गत भारत के सबसे स्वच्छ शहर के खिताब से नवाजा गया। जबकि सूरत, गुजरात और विजयवाड़ा, आंध्र प्रदेश ने ‘1 लाख से अधिक आबादी’ श्रेणी में क्रमशः दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया।

ii.महाराष्ट्र के शहरों वीटा, लोनावाला और सास्वद ने ‘1 लाख से कम आबादी’ श्रेणी के अंतर्गत भारत के सबसे स्वच्छ शहरों में क्रमशः पहला, दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया।

iii.SS 2021 में, महाराष्ट्र ने सबसे अधिक पुरस्कार, यानी कुल 92 पुरस्कार जीते, उसके बाद छत्तीसगढ़ ने 67 पुरस्कार जीते।

SS2021 पुरस्कार:

a.1 लाख से अधिक जनसंख्या:

रैंक/श्रेणी शहर राज्य/UT
भारत के सबसे स्वच्छ शहर 1 इंदौर MP
2 सूरत गुजरात
3 विजयवाड़ा आंध्र प्रदेश
अधिकतम नागरिकों की भागीदारी में सर्वश्रेष्ठ शहर हापुड़ उत्तर प्रदेश (UP)
सर्वश्रेष्ठ नागरिक नेतृत्व वाली पहल राजकोट गुजरात

b.1 लाख से कम जनसंख्या श्रेणी:

रैंक/श्रेणी शहर राज्य/UT
भारत के सबसे स्वच्छ शहर 1 वीटा महाराष्ट्र
2 लोनावाला महाराष्ट्र
3 सास्वद महाराष्ट्र
अधिकतम नागरिकों की भागीदारी में सर्वश्रेष्ठ शहर पटियाली UP
सर्वश्रेष्ठ नागरिक नेतृत्व वाली पहल खानापुर तेलंगाना

c.1 लाख से 3 लाख जनसंख्या श्रेणी:

श्रेणी शहर राज्य
भारत का ‘सबसे स्वच्छ छोटा शहर’ नई दिल्ली दिल्ली
‘फास्टेस्ट मूवर’ छोटा शहर होशंगाबाद

(87वें स्थान पर, SS 2020 में 361वें स्थान से वृद्धि)

मध्य प्रदेश (MP)
‘सिटीजन्स फीडबैक’ में सर्वश्रेष्ठ, छोटा शहर तिरुपति आंध्र प्रदेश
‘इनोवेशन & बेस्ट प्रैक्टिसेज’ में सर्वश्रेष्ठ, छोटा शहर देवास MP
सर्वश्रेष्ठ ‘सेल्फ-सस्टेनेबल स्मॉल सिटी’ अंबिकापुर छत्तीसगढ

d.3 लाख से 10 लाख जनसंख्या श्रेणी:

श्रेणी शहर राज्य
भारत का ‘क्लीनेस्ट मीडियम साइज सिटी’ नोएडा UP
‘फास्टेस्ट मूवर’ मीडियम सिटी हुबली – धारवाड़ कर्नाटक
‘सिटीजन्स फीडबैक’ में सर्वश्रेष्ठ मीडियम सिटी उज्जैन MP
‘इनोवेशन एंड बेस्ट प्रैक्टिसेज’ में सर्वश्रेष्ठ मीडियम सिटी ब्रह्मपुर ओडिशा
सर्वश्रेष्ठ ‘सेल्फ-सस्टेनेबल मीडियम सिटी’ मैसूर कर्नाटक

e.10 लाख से 40 लाख जनसंख्या श्रेणी:

श्रेणी शहर राज्य
भारत का ‘क्लीनेस्ट बिग सिटी’ नवी मुंबई महाराष्ट्र
‘फास्टेस्ट मूवर’ बिग सिटी मेरठ कर्नाटक
‘सिटीजन्स फीडबैक’ में सर्वश्रेष्ठ बिग सिटी विशाखापत्तनम MP
‘इनोवेशन एंड बेस्ट प्रैक्टिसेज’ में सर्वश्रेष्ठ बिग सिटी गाज़ियाबाद ओडिशा
सर्वश्रेष्ठ ‘सेल्फ-सस्टेनेबल बिग सिटी’ पुणे महाराष्ट्र

f.40 लाख से अधिक जनसंख्या श्रेणी:

श्रेणी शहर राज्य
भारत का ‘क्लीनेस्ट सिटी’ अहमदाबाद गुजरात
‘फास्टेस्ट मूवर’ मेगा सिटी ब्रुहत बेंगलुरु कर्नाटक
‘सिटीजन्स फीडबैक’ में सर्वश्रेष्ठ मेगा सिटी उत्तरी दिल्ली दिल्ली
‘इनोवेशन एंड बेस्ट प्रैक्टिसेज’ में सर्वश्रेष्ठ मेगा सिटी ग्रेटर मुंबई महाराष्ट्र
सर्वश्रेष्ठ ‘सेल्फ-सस्टेनेबल मेगा सिटी’ ग्रेटर हैदराबाद तेलंगाना

g.छावनी

रैंक/श्रेणी छावनी राज्य
भारत की सबसे स्वच्छ छावनी 1 अहमदाबाद कैंट गुजरात
2 मेरठ कैंट उत्तर प्रदेश
3 दिल्ली कैंट दिल्ली
‘अधिकतम नागरिक भागीदारी’ में सर्वश्रेष्ठ छावनी लैंसडाउन कैंट उत्तराखंड
‘सिटीजन्स फीडबैक’ में सर्वश्रेष्ठ छावनी वाराणसी कैंट UP
‘इनोवेशन & बेस्ट प्रैक्टिसेज’ में सर्वश्रेष्ठ छावनी देहरादून कैंट उत्तराखंड
सर्वश्रेष्ठ ‘सेल्फ सस्टेनेबल’ छावनी सिकंदराबाद कैंट तेलंगाना
‘फास्टेस्ट मूवर’ छावनी पचमढ़ी कैंट मध्य प्रदेश

h.राज्य/UT

श्रेणी राजधानी राज्य
भारत की ‘क्लीनेस्ट सिटी’ राज्य की राजधानी/UT गांधीनगर गुजरात
‘फास्टेस्ट मूवर’ राज्य की राजधानी/UT रायपुर छत्तीसगढ
‘सिटीजन्स फीडबैक’ में सर्वश्रेष्ठ राज्य की राजधानी लखनऊ UP
‘इनोवेशन & बेस्ट प्रैक्टिसेज’ में सर्वश्रेष्ठ राज्य की राजधानी चेन्नई तमिलनाडु
सर्वश्रेष्ठ ‘सेल्फ-सस्टेनेबल राज्य’ की राजधानी/UT भोपाल मध्य प्रदेश

i.गंगा टाउन:

श्रेणी गंगा टाउन राज्य
बेस्ट गंगा टाउन (>1 लाख जनसंख्या) वाराणसी उत्तर प्रदेश
बेस्ट गंगा टाउन (< 1 लाख जनसंख्या) राजधानी/UT कन्नौज उत्तर प्रदेश

j.राज्य रैंकिंग:

रैंक राज्य
100 से कम ULB (शहरी स्थानीय निकाय) वाले राज्य
बेस्ट परफार्मिंग स्टेट 1 झारखंड
2 हरियाणा
3 गोवा
फास्टेस्ट मूवर स्टेट मिजोरम
100 से अधिक ULB वाले राज्य
बेस्ट परफार्मिंग स्टेट 1 छत्तीसगढ़ (लगातार तीसरे वर्ष)
2 महाराष्ट्र
3 मध्य प्रदेश
फास्टेस्ट मूवर स्टेट कर्नाटक

कुल मिलाकर – सर्वश्रेष्ठ नागरिक नेतृत्व वाली पहल (सभी ULB) – पनवेल, महाराष्ट्र

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

नोट– एक शहर को सिर्फ एक अवार्ड दिया गया है। शहर की जनसंख्या 2011 की जनगणना के अनुसार है।

संक्षेप में SS 2021 पुरस्कारों के बारे में:

i.2020 में 1.87 करोड़ की तुलना में कुल 4,320 शहरों ने स्वच्छ सर्वेक्षण के 2021 संस्करण में 5 करोड़ से अधिक नागरिकों की प्रतिक्रिया के साथ भाग लिया।

ii.SS 2021 ने पूरे शहरी भारत से स्वच्छता और अपशिष्ट प्रबंधन में 6,000 से अधिक नवाचारों और सर्वोत्तम प्रथाओं की पहचान करने में मदद की है।

iii.स्टार रेटिंग सिस्टम:

  • कचरा मुक्त शहरों के स्टार रेटिंग प्रोटोकॉल को 2018 में MoHUA द्वारा एक SMART ढांचे के रूप में पेश किया गया था, ताकि ठोस अपशिष्ट प्रबंधन मानकों में शहरों का मूल्यांकन किया जा सके। 2018 में, केवल 56 शहरों को स्टार रेटिंग पर प्रमाणन से सम्मानित किया गया था। 2021 में लगभग 2,238 शहरों ने स्टार रेटिंग मूल्यांकन के लिए आवेदन किया था।
  • कचरा मुक्त शहरों के स्टार रेटिंग प्रोटोकॉल के अंतर्गत एक 3-स्टार और 5-स्टार रेटेड शहरों की घोषणा की गई, जिसमें कुल 9 शहरों(इंदौर, सूरत, नई दिल्ली नगर परिषद, नवी मुंबई, अंबिकापुर, मैसूर, नोएडा, विजयवाड़ा और पाटन) को 5 स्टार शहरों के रूप में प्रमाणित किया गया है, जबकि 143 शहरों को 3 स्टार के रूप में प्रमाणित किया गया है।

iv.स्वच्छता यात्रा में सभी नागरिकों, विशेष रूप से बच्चों, युवाओं और वरिष्ठ नागरिकों की प्रतिबद्धता का प्रतिनिधित्व करने के लिए राष्ट्रपति द्वारा ‘हर धड़कन स्वच्छ भारत की – स्वच्छ भारत मिशन-शहरी 2.0 के लिए एक राष्ट्र की प्रतिबद्धता की पुष्टि’ शीर्षक से एक गीत जारी किया गया था।

v.SBM-U 2.0 को स्मार्ट, डेटा-संचालित निर्णय लेने की दिशा में आगे बढ़ाने के लिए एक भविष्यवादी और अत्याधुनिक स्थानिक GIS प्लेटफॉर्म लॉन्च किया गया था।

vi.प्रेरक DAUUR सम्मान:

  • स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के हिस्से के रूप में पुरस्कारों की एक नई श्रेणी को प्रेरक DAUUR सम्मान शीर्षक दिया गया है। प्रेरक DAUUR सम्मान में दिव्या (प्लैटिनम), अनुपम (स्वर्ण), उज्जवल (रजत), उदित (कांस्य), आरोही (आकांक्षी) जैसी कुल पांच अतिरिक्त उप-श्रेणियां हैं।
  • इंदौर (MP), सूरत (गुजरात), नवी मुंबई (महाराष्ट्र), नई दिल्ली नगर परिषद (दिल्ली) और तिरुपति (आंध्र प्रदेश) को ‘दिव्य’ (प्लैटिनम) के रूप में वर्गीकृत किया गया था। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

vii.MoHUA द्वारा 2020 में शुरू किए गए ‘सफाईमित्र सुरक्षा चैलेंज’ में 246 भाग लेने वाले शहरों में इंदौर, नवी मुंबई, नेल्लोर और देवास विभिन्न जनसंख्या श्रेणियों में शीर्ष प्रदर्शनकर्ता के रूप में उभरे।

viii.संशोधित SBM-U 2.0 वेबसाइट और एकीकृत प्रबंधन सूचना प्रणाली पोर्टल ‘स्वच्छतम’ लॉन्च किया गया।

हाल के संबंधित समाचार:

प्रहलाद सिंह पटेल, राज्य मंत्री(MoS), जल शक्ति मंत्रालय ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग(DDWS) द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) (SBM (G)) चरण- II के अंतर्गत स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण (SSG) 2021 के वर्चुअल लॉन्च की अध्यक्षता की।

स्वच्छ सर्वेक्षण के बारे में:

i.स्वच्छ सर्वेक्षण भारत भर के शहरों और कस्बों में क्लीनलीनेस, हाइजीन और सैनिटेशन का एक वार्षिक सर्वेक्षण है।

ii.इसे स्वच्छ भारत अभियान के हिस्से के रूप में लॉन्च किया गया था, जिसका उद्देश्य 2 अक्टूबर 2019 तक भारत को स्वच्छ और खुले में शौच से मुक्त बनाना था।

iii.पहला सर्वेक्षण 2016 में किया गया था और 73 शहरों को कवर किया गया था, 2020 तक सर्वेक्षण 4242 शहरों को कवर करने के लिए बढ़ गया था और इसे दुनिया का सबसे बड़ा स्वच्छता सर्वेक्षण कहा गया था।