Current Affairs PDF Sales

Current Affairs Today in Hindi – May 5 2017

AffairsCloud YouTube Channel - Click Here

हैलो दोस्तों, affairscloud.com में आपका स्वागत है।हम यहां आपके लिए 5 मई ,2017 के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स  को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड, से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते है। हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – May 4 2017

Current Affairs May 5 2017

भारतीय समाचार

सभी एअरलाइनों के लिए राष्ट्रीय ‘नो फ्लाई सूची’ का प्रस्ताव
नागर विमानन मंत्रालय ने घरेलू एयरलाइनों में यात्रा के दौरान बुरा व्यवहार करने वाले यात्रियों के विमान यात्रा करने Govt unveils no-fly list and rules to handle unruly air passengersपर प्रतिबंध लगाने वाली राष्ट्रीय सूची तैयार करने के वास्ते नियमों का प्रारूप आज जारी कर दिया।
i.यह कदम शिवसेना सांसद रविंद्र गायकवाड़ की संलप्तिता वाली उस घटना के बाद उठाया गया है जिसमें उन्होंने एयर इंडिया के एक स्टाफ पर हमला कर दिया था। इस घटना के बाद कंपनी ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया था और फिर अन्य राष्ट्रीय एयरलाइनों ने भी उनके विमान यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया था।हालांकि उन पर लगा प्रतिबंध बाद में हटा दिया गया था।
ii.नियम बुरे व्यवहार को तीन श्रेणियों में विभाजित करता है और तीन महीने, छह महीने और दो साल या इससे भी ज्यादा वक्त तक बिना किसी सीमा के उड़ान पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश करते हैं।

आईबीबीआई ने “तकनीकी समिति” का गठन किया
आईबीबीआई (सूचना उपयोगिता) विनियम, 2017 के विनियमन 14 के अनुसार कोर सेवा और अन्य सेवाओं के प्रदर्शन के लिए तकनीकी मानदंडों को निर्धारित करने के लिए दिवालिया और दिवालियापन बोर्ड (आईबीबीआई) ने तकनीकी समिति का गठन किया है.
i.इस समिति की अध्यक्षता डॉ. आर बी बर्मन करेंगे और इस समिति के तीन सदस्य डॉ नंद लाल सारडा, डॉ पुलक घोष और श्री वी जी कन्नन है.
ii.यह समिति विशेष रूप से निम्न विषयों पर अपनी सिफारिश देगी:- एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफ़ेस; मानक सेवा की शर्तें; उपयोगकर्ताओं के पंजीकरण; प्रत्येक रिकॉर्ड और प्रत्येक उपयोगकर्ता के लिए अद्वितीय पहचानकर्ता; जानकारी प्रस्तुत करना; व्यक्तियों की पहचान और सत्यापन; प्रमाणीकरण और सूचना का सत्यापन.
समिति के सदस्य:-

Name and Position Position in committee
Dr. R. B. Barman (Chairman, National Statistical Commission) Chairperson
Dr. NandLal Sarda (Emeritus Fellow, Indian Institute of Technology, Bombay) Member
Dr.  Pulak Ghosh (Professor, Indian Institute of Management, Bangalore) Member
Sh. V. G. Kannan (Chief Executive, Indian Banks Association) Member

हैदराबाद में आयोजित होगा अंतरराष्ट्रीय परमाकल्चर सम्मेलन
13 वा अंतरराष्ट्रीय परमाकल्चर कन्वर्जेन्स(IPC) एक्सपर्ट्स, 27 नवंबर से 2 दिसंबर, 2017 तक हैदराबाद में आयोजित किया जायेगा .
*परमा कल्चर एक कृषि करने की विधि है .इसमें चुनौतियों को हल करने के सिद्धांत भी शामिल हैं .
I.आईपीसी का विषय ‘स्वस्थ समाजों की तरफ’ [In english-‘Towards healthy societies’.]है।
ii.यह हैदराबाद स्थित पर्यावरण और विकास एनजीओ अरान्या कृषि विकल्प द्वारा आयोजित किया जा रहा है।
iii.आईपीसी की बैठक में 1200 प्रतिनिधि भाग लेंगे।
iv.आईपीसी 2017 का उद्देश्य भारतीय किसानों को एक मौका प्रदान करना है और यह जानकारी देना है कि उनकी मौजूदा चुनौतियों को वे किस प्रकार परमाकल्चर सिद्धांतों के प्रयोग से हल कर सकते हैं
v. ये कार्यक्रम रणनीति, शिक्षा मानक, अनुसंधान और क्षेत्रीय और वैश्विक परिमार्जन विकास पर चर्चा करने के लिए मंच प्रदान करेंगे।
vi. 1984 में ऑस्ट्रेलिया में पहली आईपीसी की मेजबानी की गई थी।

जम्मू-कश्मीर के प्राथमिक शिक्षकों के लिए केंद्र ने दिए 200 करोड़
केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर के प्राथमिक शिक्षकों के बकाया वेतन भुगतान के लिए दो सौ करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं।
i प्रकाश जावड़ेकर ने राज्य में दो इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए 25 करोड़ रुपये और 52 करोड़ रुपये को मंजूरी दी है।
ii.यह इंजीनियरिंग कॉलेज कश्मीर घाटी का सापकोर और जम्मू के कठुआ में स्थित है।भवनों का निर्माण दो साल में पूरा हो जाएगा।उन्होंने कहा कि दोनों इंजीनियरिंग कॉलेजों में शिक्षण कार्य इसी वर्ष आरंभ हो जाएगा। सरकार इंजीनियरिंग छात्रों का छात्रवृत्ति भी देती है।
iii. बीमिना, पलोदा, तत्री, राजौरी, कुपवाडा, पुलवामा और कारगिल में लड़कियों के लिए सात हॉस्टल की लागत 50 करोड़ रुपये है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की “इ-विन परियोजना”,प्रतिरक्षण में सर्वश्रेष्ठ वैश्विक प्रचलन बनी
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की इ-विन (इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क) परियोजना प्रतिरक्षण में वैश्विक सर्वोत्तम eVIN Project of Health Ministry becomes global best practise in immunisationअभ्यास बन गई है। परियोजना के अध्ययन के लिए फिलीपींस, इंडोनेशिया, बांग्लादेश, नेपाल और थाईलैंड के प्रतिनिधि भारत की यात्रा पर हैं।
i.पांच देशों के अंतर्राष्ट्रीय शिष्टमंडल के सदस्यों ने स्वास्थ्य सचिव के साथ स्वास्थ्य मंत्रालय की ई-विन परियोजना के वैश्विक सर्वश्रेष्ठ प्रचलन के बारे में जानने के लिए तथा यह समझने के लिए कि किस प्रकार इसे देश में कार्यान्वित किया जाता है और किस प्रकार वे इसे अपने देशों में अमल में लाएंगे, बातचीत की।
ईवीआईएन (इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क) के बारे में:
i.यह एक स्वदेशी विकसित तकनीक प्रणाली है ।
सभी तरह के वैक्सीन एक नीयत तापमान में रखना अनिवार्य होता है। मोबाइल एप सिम संचालित टैम्परेचर लॉगर्स रेफ्रिजरेटर में लगे डिजिटल सेन्सर्स के माध्यम से अब तापमान की स्थिति पर नियंत्रण रखना आसान होता है । तापमान निर्धारित स्तर से कम या ज्यादा होने पर लॉगर अलार्म देगा और कोल्ड चेन हैंडलर इसे अपने स्मार्ट फोन पर आए एसएमएस से जान लेते है ।
ii। वर्तमान में यह भारत के 12 राज्यों में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) द्वारा लागू किया जा रहा है।
iii। इसका उद्देश्य भारत सरकार के यूनिवर्सल प्रतिरक्षण कार्यक्रम का समर्थन करना है।

कश्मीर द्वारा एक विशाल ” घेरा और तलाशी अभियान ” शुरू किया गया
पुलिसकर्मियों पर बढ़ते हमलों और बैंक डकैतियों की घटनाओं को देखते हुए, दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षा बलों द्वारा एक विशाल ” घेरा और तलाशी अभियान ” शुरू किया गया था।
प्रमुख बिंदु:
i.आतंकियों के पूरी तरह से खात्मे के लिए सेना ने घाटी में अभूतपूर्व अभियान छेड़ दिया है। कश्मीर के शोपियां जिले में 4 हजार से ज्यादा जवान उतारे गए हैं। इसके अलावा, हेलिकॉप्टर और ड्रोन आसमान से नजर रखे हुए हैं।
ii.जो सुरक्षाबल मैदान में हैं, उनमें आर्मी, पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवान शामिल हैं। सेना के एक अफसर के मुताबिक, घाटी में बीते एक दशक में छेड़ा गया यह सबसे बड़ा ऑपरेशन है।
iii. इन जवानों ने करीब 20 गांवों को खाली कराया और तलाशी अभियान शुरू किया।
iv.जम्मू कश्मीर पुलिस ने उमर मजीद पर 10 लाख रुपये का नकद इनाम दिया।
वजह :-
आतंकियों ने इमाम साहिब के नजदीक 62 राष्ट्रीय राइफल्स की एक गश्ती टुकड़ी पर हमला किया। सूत्रों के मुताबिक, इस हमले में तीन सैनिक घायल हो गए। एक सीनियर इंटेलिजेंस अफसर ने बताया कि हाल ही में यहां के बागों में टहलते 30 आतंकियों का विडियो वायरल हो गया था। आतंकियों के सफाए का ऑपरेशन छेड़ने के लिए यह विडियो ही बड़ी वजह बना।

मध्य प्रदेश: भारत ने इसराइल के साथ एक संयुक्त उद्यम में छोटे शस्त्र की निर्माण इकाई खोली
India opens small arms manufacturing unit in MP in a joint venture with Israelपुंज लॉयड लिमिटेड और संयुक्त उद्यम पार्टनर इज़राइल वेपन इंडस्ट्रीज (आईडब्ल्यूआई) ने मध्य प्रदेश के मलानपुर में देश के पहले निजी छोटे हथियार निर्माण संयंत्र का उद्घाटन किया।
i.इसका उद्देश्य भारतीय रक्षा बलों और निर्यात के लिए संयंत्र में छोटे हथियारों का निर्माण करना है।
ii.यह पहली बार है कि भारत अपने छोटे हथियार खुद बना रहा है .
iii.इस कार्यक्रम की कुल लागत 200 करोड़ रुपये है.
iv.इसराइल के रक्षा मंत्रालय ने पूरी तरह से और पूरे दिल से इस सहयोग का समर्थन किया है।
इजराइल :
♦ राजधानी: यरूशलेम
♦ मुद्रा: इज़राइली नई शेकेल
♦ राष्ट्रपति: रेवेन रिवलिन

पहली पवन ऊर्जा परियोजनाओं की नीलामी
एमएनआरई की पहली पवन उर्जा नीलामी योजना के तहत 1,000 मेगावाट पवन उर्जा की खरीद के लिए ट्रेडिंग कंपनी पीटीसी इंडिया तथा उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, दिल्ली, ओडिशा और असम की बिजली वितरण कंपनियों ने दस्तखत किए।
i.उत्तर प्रदेश- 449.9 मेगावाट,
बिहार 200 मेगावाट,
झारखंड -200 मेगावाट,
दिल्ली-100 मेगावाट,
असम-50 मेगावाट और
ओडिशा -50 मेगावाट
ii.लोन जारी करने की तारीख से 18 महीने के भीतर परियोजनाएं शुरू की जानी हैं।
iii.पवन नीलामी योजना की सफलता के साथ, एमएनआरई ने 1000 मेगावाट की क्षमता वाली पवन ऊर्जा परियोजनाओं के लिए पवन नीलामी के दूसरे दौर के लिए एक योजना शुरू की।

अंतरराष्ट्रीय समाचार

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का 27वा सत्र जिनेवा में हो रहा है आयोजित
यूनिवर्सल पीरियोडिक रिव्यू (यूपीआर) वर्किंग ग्रुप का 27 वें सत्र 1 से 12 मई, 2017 को जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) में आयोजित किया जा रहा है।
i.यूपीआर -3 के लिए भारत की राष्ट्रीय रिपोर्ट की समीक्षा 4 मई, 2017 को हुई।
ii.भारत का प्रतिनिधित्व मुकुल रोहतगी – भारत के अटार्नी जनरल ने किया ।
ii। श्री पी.एस. पटवालिया – भारत के अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल और सुश्री रुची घनश्याम – विदेश मामलों के सचिव (पश्चिम) सहित 18 सदस्यीय भारतीय प्रतिनिधिमंडल,श्री रोहतगी के साथ थे।

तुर्की, रूस और ईरान की सीरिया में “सुरक्षित क्षेत्र” बनाने पर सहमति
आस्ताना में सीरिया संकट के बारे में चौथे दौर की वार्ता में ईरान, रूस और तुर्की ने सीरिया में 4 सुरक्षित क्षेत्र बनाने के सहमति पत्र पर दस्तख़त किए।
Turkey, Russia and Iran sign 'safe zones' deal for Syriaप्रमुख बिंदु :
i.इस सहमति पत्र पर ईरानी अधिकारी हुसैन जाबिरी अंसारी, रूसी अधिकारी एलेक्सांद्र लावरेन्तेफ़ और तुर्क अधिकारी सेदात उनाल ने दस्तख़त किए। ii.क़ज़्ज़ाक़िस्तान की राजधानी आस्ताना में सीरिया वार्ता के दूसरे दिन इस सहमति पत्र पर दस्तख़त हुए।
iii.रिपोर्ट के अनुसार, रूस ने यह प्रस्ताव रखा कि इदलिब, हुम्स, पूर्वी ग़ूता और दक्षिणी सीरिया में तनाव कम करने वाले क्षेत्र बनाए जाएं।
iv.रूस के प्रस्ताव के मसौदे में आया है, सीमावर्ती पट्टी बनायी जाए। इन पट्टियों पर चेकपोस्ट बनायी जाए और बिना हथियार के लोगों की आवाजाही हो, मानवीय सहायता पहुंचायी जाए और साथ ही व्यापारिक गतिविधियां भी हों।
v.इसी परिप्रेक्ष्य में प्रस्तावित चेपकोस्ट को संघर्ष विराम के पालन का मानक समझा जाए।
सीरिया:
♦ राजधानी: डमस्कस (Damascus)
♦ मुद्रा: सीरियाई पौंड
♦ राष्ट्रपति: बशर अल असद

बैंकिंग और वित्त

डूबे कर्ज से निपटने के मामले पर अध्यादेश को राष्ट्रपति से मंजूरी मिली
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को डूब चुके कर्ज (Bad Loan) से निपटने के मामले में अधिक सशक्त बनाने से संबंधित अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी मिल गई.
i.राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अध्यादेश पर हस्ताक्षर कर दिए, जो बैंकों की गैर-निष्पादित संपत्तियों से जुड़ी समस्याओं के निपटारे के लिए बैंकिंग नियमन अधिनियम में संशोधन करेगा.
ii.अध्यादेश को केंद्रीय मंत्रिमंडल से मंजूरी मिल जाने के बाद राष्ट्रपति के पास भेजा गया. मंत्रिमंडल ने इसे मंजूरी दे दी .
iii.केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा, “अध्यादेश डूबे ऋण के मामले से निपटने के लिए आरबीआई को अधिक शक्तियां प्रदान करेगा.”

व्यापार

Facebook ने भारत में “एक्सप्रेस वाईफाई” की शुरूआत की
फेसबुक ने अपना “एक्सप्रेस वाई-फाई” भारत में लॉन्च किया है यह वाईफाई सेवा 4 राज्यों में 700 हॉटस्पॉट के माध्यम से उपलब्ध है।
Facebook launches Express WiFi in Indiai.फेसबुक ने भारत में अपने यूजर्स के लिए एक्सप्रेस वाईफाई सर्विस की शुरुआत कर दी है, इस सर्विस के अंर्तगत यूजर्स को ग्रामीण इलाकों में सार्वजनिक हाटस्पॉट के जरिए इंटरनेट सुविधा मुहैया जाएगी.
ii.फ्री बेसिक्स के एक साल बाद कंपनी ने अपनी इस सर्विस की शुरुआत की है. गौरतलब है कि फ्री बेसिक्स के अंर्तगत यूजर्स को चुनींदा वेबसाइटों का फ्री एक्सेस दिया जाता था, लेकिन एक्सप्रेस वाईफाई पेड मॉडल पर काम करता है.
iii.एक्सप्रेस वाई-फाई सेवाएं वर्तमान में केन्या, नाइजीरिया, इंडोनेशिया और तंजानिया में सक्रिय हैं।
iv. इसमें गुजरात, राजस्थान, उत्तराखंड और मेघालय राज्य शामिल होंगे।
v.कंपनी ने इस सर्विस के तहत टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल को अपना पार्टनर बनाया है. आगामी महीनों में कंपनी 20 हजार से ज्यादा वाईफाई हाटस्पॉट लगाएगी.
vi कंपनी ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि भारत में 1.3 अरब की जनसंख्या है लेकिन इनमें से सिर्फ 39 करोड़ लोग ही इंटरनेट से जुड़े हैं.

नियुक्तियाँ

प्रभात कमल बेज़बोराह चाय बोर्ड के पहले गैर-आईएएस प्रमुख बने
असम के प्रभात कमल बेज़बोराह को टी बोर्ड ऑफ इंडिया का नये अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है।
i.इसके साथ की बेज़बोराह कोलकाता-मुख्यालय वाले चाय बोर्ड के शीर्षस्थ अधिकारी नियुक्त होने वाले पहले गैर आईएएस बन गए।
ii.प्रसिद्ध कॉफी उत्पादक एम एस बोजे गौड़ा को कॉफी बोर्ड का चेयरमैन नियुक्त किया गया है।
प्रभात कमल बेज़बोराह के बारे में
♦ वर्तमान में, वह चाय अनुसंधान संघ (टीआरए) के प्रमुख के रूप में सेवा कर रहे हैं।
♦ बेज़बोराह भी असम के कम से कम 6-7 उच्च कोटि चाय बागानों (बोकाओला, सौतोली, लोंगबारी, आदि) के मालिक हैं
♦ उन्होंने असम चाय प्लांटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष के रूप में दो से तीन बार सेवा निभाई है ।

अधिग्रहण और विलय

क्विकर (quikr) ने  Zimmber को करीब 10 मिलियन डॉलर में खरीद लिया
Quikr acquires home services start-up Zimmber in a $10 million all-stock dealऑनलाइन क्लासिफाइड कंपनी क्विकर (quikr) इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने घरेलू सेवाएं प्रदान करने वाला नया छोटा उद्यम ” जिमम्बर (रीजवेनेट सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड) को करीब 10 मिलियन डॉलर में खरीद लिया है 
i.पिछले 12 महीनों में मुंबई-आधारित Zimmber क्विकर का चौथा अधिग्रहण है।
ii.जिमम्बर , गौरव श्रीवास्तव और अनुभब गोयल द्वारा स्थापित की गयी है और इसने अब तक 7.4 मिलियन डॉलर जुटाए हैं।
iii.कंपनी, वर्तमान में दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु और पुणे में काम कर रही है.
iv.कंपनी पांच नए व्यापारिक क्षेत्रों – ऑटोमोबाइल, रियल एस्टेट, जॉब्स, सर्विस और ग्राहक-टू-ग्राहक सेल्स पर जोर दे रही है।

विज्ञान प्रौद्योगिकी

GSAT-9 कामयाबी से लॉन्च, साउथ एशिया के देशों को मिला मोदी का ‘आसमानी गिफ्ट’
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने श्रीहरिकोटा से पीएम नरेंद्र मोदी के साउथ एशिया के पड़ोसी देशों को ‘आसमानी गिफ्ट’ संचार उपग्रह GSAT-9 को कामयाबी से लॉन्च किया।
i.मई 2014 में सत्ता में आने के बाद पीएम मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों से दक्षेस उपग्रह बनाने का आग्रह किया था, जो पड़ोसी देशों को ‘भारत की ओर से उपहार’ के तौर पर दिया जा सके। पीएम नरेंद्र मोदी ने सैटलाइट के सफल लॉन्च के लिए वैज्ञानिकों को बधाई दी है।
ii.दक्षिण एशिया सैटेलाइट भारत, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका और मालदीव के बीच आपदा और दूरसंचार लिंक को बेहतर बनाने में मदद करेगा.

दुनिया की सबसे बड़ी एक्स-रे लेज़र ने पहली प्रकाश की किरण उत्पन्न की
दुनिया की सबसे बड़ी एक्स-रे लेज़र ने अपने प्रकाश की पहली किरण पैदा की जिसके कारण वैज्ञानिकों को परमाणु स्तर पर नई सामग्री, दवाओं और रासायनिक प्रतिक्रियाओं की झलक मिल सकेगी।
World's biggest X-ray laser generates first lightप्रमुख बिंदु:
i.वैज्ञानिकों के मुताबिक, 3.4 किलोमीटर लंबी यूरोपीय एक्सएफईएल जो अधिकांश रूप से जर्मनी में भूमिगत सुरंगों में स्थित है उससे यूरोपीय शोध मे एक नया युग शुरू होगा।
ii.एक्स-रे प्रकाश की वेवलेंथ 0.8 नैनोमीटर है, जो प्रकाश की वेवलेंथ की तुलना में करीब 500 गुना छोटी है। पहली लेज़िंग में लेजर का पुनरावृत्ति दर एक पल्स प्रति सेकंड था, जो बाद में 27,000 प्रति सेकेंड तक बढ़ जायेगा।
iii.प्राप्त लेजर प्रकाश से अब एक्स-रे का उपयोग परमाणु रिजोल्यूशन में नैनोकोस्मोस तस्वीरें और फिल्म बनाने के लिए किया जा सकेगा।
iv.जर्मन अनुसंधान केंद्र ‘डेसी’ जो यूरोपीय एक्सएफईएल का सबसे बड़ा शेयरधारक है उसने अप्रैल के अंत से आपरेशन शुरू किया था।
v.यूरोपीय एक्सएफईएल दुनिया भर में पांच एक्सरे लेज़रों में सबसे बड़ी और सबसे शक्तिशाली है, जिसमें हार्ड एक्स रे प्रकाश के छोटे कणो को पैदा करने की क्षमता है।

इसरो ने देसी संसाधनों से बना सौर हाइब्रिड इलेक्ट्रिक कार का खुलासा किया
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने हाल ही एक सोलर हाइब्रिड इलेक्ट्रिक कार तैयार की है। देसी संसाधनों का इस्तेमाल कर डिजाइन की गई इस कार का प्रदर्शन तिरुवनंतपुरम के विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र में किया गया।
i.इस कार की खासियत यह है कि ये हाई एनर्जी लिथियम आयन बैट्री की मदद से चलती है, जिसे ज़रूरत पड़ने पर चार्ज किया जा सकता है। कार बैट्री सोलर एनर्जी की मदद से चार्ज होगी। यह कार पूरी तरह से पर्यावरण हितैषी है और दूसरी कारों से बिलकुल अलग है।
ii.इस कार को बनाने में सबसे बड़ी चुनौती कार की छत पर सोलर पैनल और उसके इलेक्ट्रोनिक सिस्टम बनाने में रही, जिससे बैट्री को सोलर एनर्जी के जरिए आसानी से चार्ज किया जा सके। इस कार के लिए इसरो ने एक सौर पैनल विकसित किया जो कार की छत पर लगाया जा सके और उसके साथ ही गियर बॉक्स, सोलर पैनल एवं बैट्री के लिए कंट्रोल इलेक्ट्रोनिक्स और आंतरिक कम्बशन इंजन के साथ इलेक्ट्रिक मोटर को लगाने के लिए कनवर्जन किट तैयार किया है।

भगवन(ईश्वरीय कण) को खोजने वाली महा मशीन “लार्ज हैड्रन कोलाइडर” फिर से शुरू
एक बार फ़िर से लार्ज हेड्रान कोलाईडर को 2017 के भौतिकी के प्रयोगो के लिये आरंभ किया गया.
i.दुनिया की एक्सपेरिमेंट की सबसे बड़ी मशीन जमीन के अंदर एक बार फिर चल पड़ी है।
ii.दुनिया की सबसे शक्तिशाली पार्टिकल कोलाइडर मशीन का निर्माण यूरोपीय न्यूक्लियर रिसर्च संस्था ‘सर्न’ ने किया है.
Large Hadron Collider restarts for 2017 run, says CERNमकसद
बिग बैंग की थिअरी को समझना, डार्क मैटर (माना जाता है कि जिससे किसी पार्टिकल में मास यानी द्रव्यमान होता है) और ब्लैक होल (एक ऐसी जगह जहां का गुरुत्वाकर्षण इतना मजबूत होता है कि इसके पास कोई भी चीज आए, चाहे रोशनी ही क्यों ना हो, उसे अपने अंदर खींच लेती है) की गहरी स्टडी
कैसे करती है काम
सर्न की मशीन में 27 किलोमीटर लंबी पाइपलाइन जैसा एक ढांचा है। इसमें दो पैरलल बीम पाइप लगाए गए हैं, जो चार पॉइंट पर एक-दूसरे से मिलते हैं। इसमें करीब-करीब लाइट की रफ्तार से प्रोटोन्स को दो विपरीत दिशाओं से एक-दूसरे की तरफ दौड़ाया जाता है। एक बिंदु पर आकर इन्हें आपस में टकराया जाता है। साइंटिस्टों का कहना है कि इस टक्कर से वैसी ही परिस्थितियां पैदा होनी चाहिए, जैसी करीब 13.7 अरब साल पहले बिग बैंग यूनिवर्स के बनने के दौरान रही होंगी। इससे बिग बैंग और यूनिवर्स के निर्माण को करीब से जाना जा सकेगा।
इंडियन कनेक्शन भी
इस मशीन को बनाने में भारत ने भी पैसे दिए हैं और बहुत-से इंडियन साइंटिस्ट और इंस्टिट्यूट भी इससे जुड़े हैं। लेकिन इनसे बड़ा इंडियन कनेक्शन भी है। वह है इंडियन साइंटिस्ट सत्येंद्र नाथ बोस। गॉड पार्टिकल यानी हिग्स बोसॉन नाम ब्रिटिश वैज्ञानिक पीटर हिग्स और सत्येंद्र नाथ बोस के नाम से ही लिया गया है। बोस ने एटम के क्षेत्र में अहम काम किया था। गॉड पार्टिकल की खोज का श्रेय पीटर हिग्स को जाता है। उन्हें अपनी इस खोज के लिए नोबेल प्राइज भी मिला। हालांकि बहुत पहले ही बोस ने गॉड पार्टिकल की मौजूदगी की बात कही थी।

स्वीडन ने दुनिया का सबसे तेज कैमरा बनाया, शूट 5 ट्रिलियन फ्रेम्स प्रति सेकंड
स्वीडन में लुंद विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने विश्व का सबसे तेज कैमरा तैयार किया है जिसे फ्रैम( FRAME) कहा गया है । यह कैमरा पांच ट्रिलियन फ्रेम प्रति सेकंड बनाता है.
शोधकर्ताओं ने बताया कि यह कैमरा रसायन, भौतिकी और जीव विज्ञान की बेहद तेज क्रियाओं के वीडियो बनाने में सक्षम है।
विभिन्न क्रियाओं के बीच में होने वाली गतिविधियों को समझकर नए शोध के रास्ते खुलने की उम्मीद है। अब तक बहुत सी तेज प्रक्रियाओं को देख पाना संभव नहीं था ।
स्वीडन:
♦ राजधानी: स्टॉकहोम
♦ मुद्रा: स्वीडिश क्रोना