Current Affairs PDF

ओडिशा और तेलंगाना के प्रदूषण नियंत्रण बोर्डों ने पारदर्शिता में प्रथम स्थान प्राप्त किया : CSE रिपोर्ट

AffairsCloud YouTube Channel - Click Here

AffairsCloud APP Click Here

दिल्ली स्थित गैर-लाभकारी संगठन सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमेंट (CSE) द्वारा जारी ‘द ट्रांसपेरेंसी इंडेक्स :रेटिंग ऑफ़ पोल्लुशण कंट्रोल बोर्ड्स ऑन पब्लिक डिस्क्लोसर रिपोर्ट’ में ओडिशा और तेलंगाना के स्टेट पोल्लुशण कंट्रोल बोर्ड्स(SPCB) को पहला स्थान दिया गया है।

    • रिपोर्ट का उद्देश्य SPCB/PCC को सार्वजनिक डोमेन में अपनी जानकारी का खुलासा करने के लिए प्रोत्साहित करना है।
    • यह 2016-2021 की अवधि के दौरान पूरे भारत से 29 SPCB और 6 पोल्लुशण कंट्रोल कमिटी(PCC) के डेटा प्रकटीकरण प्रदर्शन के 25 संकेतकों पर आधारित है।
  • पारदर्शिता में केवल 17 SPCB और PCC ने 50% या उससे अधिक अंक प्राप्त किए हैं। वे ओडिशा, तेलंगाना, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, गोवा, कर्नाटक, हरियाणा, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, केरल, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, पंजाब, आंध्र प्रदेश और राजस्थान हैं।

रैंक SPCB की सूची (%) पारदर्शिता का
1 ओडिशा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड 67
1 तेलंगाना राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड 67
2 तमिलनाडु राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड 65.5
3 मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड 64

रिपोर्ट के मुख्य निष्कर्ष:

i.वर्तमान प्रदूषण स्तरों पर सीमित डेटा- वायु प्रदूषण, अपशिष्ट आदि जैसे वर्तमान प्रदूषण के स्तर को दर्शाने वाले डेटा गायब हैं।

    • केवल 19 SPCB/PCC अपने सतत उत्सर्जन निगरानी प्रणाली (CEMS) डेटा प्रदर्शित कर रहे हैं
  • ठोस अपशिष्ट पर सूचना साझा करने में ढिलाई: 14 SPCB/PCC नगरपालिका अपशिष्ट उत्पादन पर कोई सूचना साझा नहीं करते हैं; 11 प्लास्टिक अपशिष्ट उत्पादन पर; 10 खतरनाक कचरे पर; और 9 ई-कचरे पर।

ii.जन सुनवाई से विवरण केवल 9 SPCB/PCC द्वारा प्रदान किया गया

iii.केवल 12 राज्यों ने अपनी नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट अपनी वेबसाइटों पर साझा की है: गुजरात, मध्य प्रदेश, सिक्किम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, महाराष्ट्र, ओडिशा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु

iv.निरीक्षण और अनुपालन रिपोर्ट: वार्षिक रिपोर्ट में, केवल हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल ने प्रदूषण नियंत्रण बोर्डों द्वारा किए गए निरीक्षण पर जानकारी साझा की है।

  • केवल हरियाणा और कर्नाटक ही ऐसे स्थान हैं जिन्होंने अपनी रिपोर्ट में उद्योगों की अनुपालन स्थिति के बारे में जानकारी साझा की है।

हाल के संबंधित समाचार:

सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमेंट (CSE) द्वारा जारी स्टेट ऑफ इंडिया की एनवीरोनमेंट रिपोर्ट, 2021 के अनुसार, 17 सतत विकास लक्ष्यों (SDG) पर भारत की रैंक पिछले साल के 115 से 117 पर 2 स्थान गिर गई है। 

विज्ञान और पर्यावरण केंद्र (CSE) के बारे में

महानिदेशक – सुनीता नरैण
मुख्यालय – नई दिल्ली