Current Affairs PDF Sales

2 ग्रीन एनर्जी एफिशिएंट टाउन के साथ बिहार भारत का पहला राज्य बन गया

AffairsCloud YouTube Channel - Click Here

AffairsCloud APP Click Here

Bihar first state to have two green townsबिहार भारत का पहला राज्य बन गया है जिसके पास 2 हरित ऊर्जा कुशल शहर; राजगीर और बोधगया हैं। वे 2023 से पहली अक्षय ऊर्जा परियोजना के माध्यम से सौर ऊर्जा प्राप्त करना शुरू करेंगे।

  • शहरों को चलाने के लिए आवश्यक हरित ऊर्जा आपूर्ति सोलर एनर्जी कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया(SECI) द्वारा विकसित और आपूर्ति की जाएगी।
  • परियोजना को लागू करने के लिए, बिहार की राज्य सरकार लखीसराय और भागलपुर में 500 मेगावाट सौर ऊर्जा संयंत्रों का निर्माण करेगी।
  • राजगीर और बोधगया के बाद, पटना में कई महत्वपूर्ण सरकारी कार्यालय जैसे गवर्नर हाउस, उच्च न्यायालय, संग्रहालय और विधुत भवन भी SECI द्वारा आपूर्ति की जाने वाली हरित ऊर्जा पर चलेंगे।

अतिरिक्त शक्ति

प्रस्तावित संयंत्रों द्वारा उत्पन्न अतिरिक्त सौर ऊर्जा का उपयोग जलापूर्ति और अन्य बिजली चालित कार्यों के लिए टरबाइनों को चलाने के लिए किया जाएगा।

सोलर एनर्जी कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया(SECI) 

  • यह सोलर एनर्जी सेक्टर को समर्पित एकमात्र CPSU (सेंट्रल पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग) है। हालाँकि, वर्तमान में SECI का जनादेश पूरे नवीकरणीय ऊर्जा डोमेन को कवर करने के लिए विस्तृत हो गया है।
  • यह मिनिस्ट्री ऑफ़ न्यू & रिन्यूएबल एनर्जी (MNRE) के प्रशासनिक नियंत्रण में आता है।
  • राष्ट्रीय सौर मिशन के कार्यान्वयन की सुविधा के लिए इसे 2011 में स्थापित किया गया था (जवाहरलाल नेहरू नेशनल सोलर मिशन- JNNSM के रूप में भी जाना जाता है)।

हाल में संबंधित समाचार:

12 फरवरी 2021 को, बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (BSPCB) ने 2040 तक राज्य में जलवायु लचीलापन और निम्न-कार्बन विकास प्राप्त करने के लिए एक रूपरेखा विकसित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए। बिहार इस तरह के समझौते पर हस्ताक्षर करने वाला पहला भारतीय राज्य बन गया।

सोलर एनर्जी कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (SECI) के बारे में:

अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक – जतिंद्र नाथ स्वैन
मुख्यालय – नई दिल्ली

बिहार के बारे में:

मुख्यमंत्री – नीतीश कुमार
राज्यपाल – फागू चौहान