Current Affairs PDF

वित्त वर्ष 21 में चीन भारत का दूसरा सबसे बड़ा निर्यात गंतव्य बन गया; UAE को बदला गया

AffairsCloud YouTube Channel - Click Here

AffairsCloud APP Click Here

China is now second largest export partner of Indiaकेंद्र सरकार के आंकड़ों के अनुसार, चीन ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) को वित्त वर्ष 21 में भारत के लिए दूसरे सबसे बड़े निर्यात गंतव्य के रूप में बदल दिया। संयुक्त राज्य अमेरिका (US) भारत का शीर्ष निर्यात भागीदार बना रहा।

  • भारत के निर्यात में चीन की हिस्सेदारी वित्त वर्ष 20 के 5.3 प्रतिशत से बढ़कर वित्त वर्ष 21 में 7.29 प्रतिशत हो गई।
  • वित्त वर्ष 21 में लौह अयस्क, जैविक रसायन और पेट्रोलियम चीन को शीर्ष निर्यात थे।

वित्त वर्ष 21 में शीर्ष 5 निर्यात भागीदार:

देश निर्यात मूल्य FY21 ($बिलियन) % परिवर्तन (वर्षदरवर्ष)
US 51.6 -2.8
चीन 21.2 +27.5
UAE 16.7 -42.2
हांगकांग 10.2 -7.4
बांग्लादेश 9.1 +10.8


भारत के आयात, निर्यात का विश्लेषण:

i.वित्त वर्ष 21 में भारत का निर्यात और आयात 7.3 प्रतिशत और 18 प्रतिशत घटकर 290.6 बिलियन डॉलर और 389.2 बिलियन डॉलर रह गया।

ii.FY21 में पड़ोसी देश में शिपमेंट 27.53 प्रतिशत बढ़कर 21.18 बिलियन डॉलर हो गया, लेकिन कुल शिपमेंट 2.78 प्रतिशत घटकर 51.63 बिलियन डॉलर हो गया।

iii.वित्त वर्ष 21 में कृषि उत्पादों और फार्मास्यूटिकल्स ने निर्यात को आगे बढ़ाया।

iv.वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाइजेशन (WTO) के आंकड़ों के अनुसार, 2020 में 5.3 प्रतिशत गिरने के बाद कैलेंडर वर्ष 2021 में विश्व व्यापारिक व्यापार की मात्रा 8 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है।

नोट – भारत का लक्ष्य वित्त वर्ष 22 में 400 बिलियन डॉलर का व्यापारिक निर्यात करना है।

हाल के संबंधित समाचार:

यूनाइटेड नेशंस कांफ्रेंस ऑन ट्रेड एंड डेवलपमेंट (UNCTAD) द्वारा जारी ग्लोबल ट्रेड अपडेट (मई 2021) के अनुसार, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका ने 2021 की पहली तिमाही के दौरान आयात और निर्यात में अन्य प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं की तुलना में ‘अपेक्षाकृत बेहतर’ प्रदर्शन किया।

चीन के बारे में:

राजधानी – बीजिंग
राष्ट्रपति – शी जिनपिंग
मुद्रा – रॅन्मिन्बी