Current Affairs APP

भारत-UK वित्तीय बाजार वार्ता की पहली बैठक आभासी तरीके से आयोजित की गई

8 जुलाई 2021 को, यूनाइटेड किंगडम (UK)-भारत फाइनेंसियल मार्केट्स डायलाग (FMD) की पहली बैठक वित्तीय क्षेत्र में द्विपक्षीय संबंधों को गहरा करने के लिए आभासी तरीके से आयोजित की गई थी। इसका नेतृत्व भारतीय वित्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों और UK के हर मजेस्टीस ट्रेजरी ने किया था।

  • FMD 10वीं इकनोमिक एंड फाइनेंसियल डायलाग (EFD) की तर्ज पर आयोजित किया गया था, यह अक्टूबर 2020 में आभासी तरीके से आयोजित किया गया था जहां UK के चांसलर ऋषि सनक और भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने FMD के निर्माण के लिए सहमति व्यक्त की थी।
  • FMD के दौरान सिटी ऑफ लंदन कॉर्पोरेशन के कैपिटल मार्केट्स वर्किंग ग्रुप (WG) ने भारतीय कॉरपोरेट बॉन्ड मार्केट पर अपना काम प्रस्तुत किया, जबकि भारत-UK फाइनेंसियल पार्टनरशिप (IUKFP) ने UK-भारत वित्तीय सेवा संबंधों पर अपनी सिफारिशें प्रस्तुत कीं।

संवाद का विषय:

i.GIFT (गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक-सिटी) सिटी, भारत का प्रमुख अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्र,

ii.बैंकिंग और भुगतान

iii.बीमा

iv.पूंजी बाजार

संयुक्त वक्तव्य के मुख्य बिंदु:

i.दोनों पक्ष भारत और UK के बीच वित्तीय सेवा सहयोग को मजबूत करने पर सहमत हुए।

ii.जैसा कि UK-इंडिया GIFT (गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक-सिटी) सिटी स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप पर चर्चा हुई, दोनों पक्ष इसके तहत आगे सहयोग के लिए सहमत हुए जिसमें स्थायी वित्त और फिनटेक भी शामिल होंगे।

iii.राष्ट्र अगली UK-भारत फिनटेक जॉइंट वर्किंग ग्रुप (JWG) की बैठक में IUKFP की फिनटेक कार्य धारा के साथ सहयोग करने के लिए भी सहमत हुए।

iv.दोनों पक्ष अगले EFD में GIFT सिटी, फिनटेक और सीमा पार व्यापार और निवेश पर नीति पत्र भी लॉन्च करेंगे।

भारत-UK व्यापार:

i.UK और भारत के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2020 में £18 बिलियन से अधिक था।

ii.परियोजनाओं की संख्या के मामले में भारत ब्रिटेन का निवेश का दूसरा सबसे बड़ा स्रोत है।

iii.UK के प्रधान मंत्री Alexander Boris de Pfeffel Johnson और भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले दशक में UK-भारत व्यापार मूल्य को दोगुना करने और एक व्यापक फ्री ट्रेड एग्रीमेंट(FTA) पर बातचीत करने का लक्ष्य रखा।

iv.विशेष रूप से, वित्तीय सहयोग भारत-UK द्वारा अपनाए गए 2030 रोडमैप के प्रमुख स्तंभों में से एक है।

भारत-UK FMD में स्वतंत्र नियामक एजेंसियों की भागीदारी:

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI), सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया (SEBI), इंटरनेशनल फाइनेंसियल सर्विसेज सेंटर अथॉरिटी (IFSCA), इन्शुरन्स रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (IRDAI), बैंक ऑफ़ इंग्लैंड और वित्तीय आचरण प्राधिकरण।

हाल के संबंधित समाचार:

महाराष्ट्र स्टेट इनोवेशन सोसाइटी (MSInS) ने अपने ‘ACT4Green’ कार्यक्रम के तहत फॉरेन एंड कॉमनवेल्थ डेवलपमेंट ऑफिस (FCDO), यूनाइटेड किंगडम (UK) सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं।

यूनाइटेड किंगडम (UK) के बारे में:

राजधानी– लंदन
मुद्रा– पाउंड स्टर्लिंग
रिवर सेवर्न UK की सबसे लंबी नदी है, जबकि दूसरी सबसे लंबी नदी, टेम्स नदी राजधानी शहर लंदन से होकर बहती है।





error: Alert: Content is protected !!