Current Affairs 13 June 2024 Hindi

लो दोस्तों, affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 13 जून 2024 के महत्वपूर्ण करंटअफेयर्स को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, PIB, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं। हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, UPSC, SSC, CLAT, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी

We are Hiring – Subject Matter Expert | CA Video Creator | Content Developers(Pondicherry)

Click here for Affairscloud Hindu Free Vocabs telegram channel

BANKING & FINANCE

SBI ने MSME क्षेत्र के लिए SME डिजिटल बिजनेस लोन लॉन्च किया
SBI Unveils SME Digital Business Loans; No Financial Statements Required For Loan Upto Rs 50 Lakh11 जून 2024 को, भारत के सबसे बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक (PSB), भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME) क्षेत्र की लोन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए एक नया “SME डिजिटल बिजनेस लोन उत्पाद लॉन्च किया है।

  • नया उत्पाद SBI को 45 मिनट के भीतर MSME से लोन अनुरोधों को मंजूरी देने में सक्षम करेगा।
  • SBI ने अगले 5 वर्षों में बैंक की वृद्धि और लाभप्रदता के लिए MSME के मुनाफे को केंद्र बिंदु के रूप में पहचाना है।

SBI ने NBFC के साथ 2,030 करोड़ रुपये के सहउधार समझौते को मंजूरी दी
भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने भारत में असेवित और कम-सेवित क्षेत्रों तक अपनी पहुँच का विस्तार करने के लिए 23 गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) या हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों (HFC) के साथ साझेदारी की है।
भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के बारे में:
अध्यक्ष– दिनेश कुमार खारा
मुख्यालय– मुंबई, महाराष्ट्र
टैग लाइन– “द बैंकर टू एव्री इंडियन”
स्थापना– 1 जुलाई 1955
>> Read Full News

RBI ने ऑफशोर फंड के लिए विदेशी निवेश संबंधों के मानदंडों में ढील दी
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने नए नियम पेश किए हैं, जो सूचीबद्ध भारतीय कंपनियों और निवासी व्यक्तियों को उन ऑफशोर फंड में निवेश करने की अनुमति देते हैं, जिन्हें उनके फंड मैनेजरों के माध्यम से विनियमित किया जाता है।

  • RBI ने ये निर्देश विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 (FEMA अधिनियम) (1999 का 42) की धारा 10(4) और धारा 11 (1) के तहत जारी किए हैं।
  • RBI ने विदेशी पोर्टफोलियो निवेश (OPI) के संबंध में कुछ संशोधन किए हैं। इसलिए, विदेशी मुद्रा प्रबंधन (विदेशी निवेश) निर्देश, 2022 में संशोधन किया गया है।

नोट
i.पहले, विदेशी पोर्टफोलियो निवेश (OPI) की अनुमति केवल तभी दी जाती थी, जब “फंड” उनके गृह क्षेत्राधिकार में विनियमित होते थे और निवेश फंड की इकाइयों में होते थे। 
ii.साथ ही, बैंक केवल तभी धन प्रेषण की अनुमति देते थे, जब फंड सीधे विनियमित होते थे।

  • यदि फंड सीधे विनियमित नहीं होते, तो नए फंड को केमैन आइलैंड्स, मॉरीशस जैसे क्षेत्राधिकारों में स्थापित करना पड़ता था, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि भारतीय LP से निवेश संभव होगा

मुख्य परिवर्तन:
i.नए नियमों ने अब सीमित भागीदारी (LP), सीमित देयता कंपनियों (LLC), परिवर्तनीय पूंजी कंपनियों (VCC), कंपनियों या ट्रस्टों को केवल विदेशी फंडों द्वारा जारी इकाइयों में निवेश करने की अनुमति दी है।

  • इसके अलावा, इसने किसी भी उपकरण में निवेश की अनुमति दी है, चाहे वह किसी भी रूप में हो, चाहे वह इकाइयों में हो या नहीं।

ii.नए नियमों ने यह शर्त हटा दी है कि निवेश केवल उन फंडों में किया जा सकता है जो सीधे मेजबान देश के वित्तीय नियामक द्वारा विनियमित होते हैं, न कि उनके निवेश प्रबंधकों (IM) के माध्यम से।
iii.इसने गैर-सूचीबद्ध भारतीय कंपनियों जैसे: सीमित देयता भागीदारी (LLP), और पंजीकृत भागीदारी को OPI मार्ग के तहत अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (IFSC) फंड में निवेश करने की अनुमति दी है।

  • अब, ये गैर-सूचीबद्ध कंपनियां OPI मार्ग के तहत IFSC में पंजीकृत फंडों में अपने अंतिम ऑडिट किए गए नेटवर्थ का लगभग 50% निवेश कर सकती हैं।

नोट: इससे पहले, केवल निवासी व्यक्ति और ODI विनियमों की अनुसूची II के तहत सूचीबद्ध भारतीय कंपनियों को OPI मार्ग के तहत विदेशी कंपनियों में निवेश करने की अनुमति थी।
iv.इसने अब सामान्य भागीदारों को वाणिज्यिक रूप से अनुकूल क्षेत्राधिकारों में अपने फंड स्थापित करने की सुविधा भी दी है क्योंकि सिंगापुर और संयुक्त राज्य अमेरिका (U.S.A.) (कुछ मामलों में) जैसे क्षेत्राधिकारों में वित्तीय सेवा नियामक, फंड के बजाय फंड मैनेजर को विनियमित करते हैं।
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के बारे में:
गवर्नर: शक्तिकांत दास (RBI के 25वें गवर्नर)
मुख्यालय: मुंबई, महाराष्ट्र
स्थापना: 1 अप्रैल, 1935

ECONOMY & BUSINESS

विश्व बैंक ने FY25 के लिए भारत के GDP वृद्धि अनुमान को संशोधित कर 6.6% किया
विश्व बैंक की “ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्पेक्ट्स (GEP) – जून 2024” शीर्षक वाली द्विवार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, FY25 (2024-2025) के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) वृद्धि अनुमान को 6.4% (जनवरी 2024 में अनुमानित) से संशोधित कर 6.6% कर दिया गया।

  • इसने FY26 (2025-26) और FY27 (2026-27) के लिए भारत की GDP वृद्धि को 20 आधार अंकों (bps) से संशोधित कर क्रमशः 6.7% और 6.8% कर दिया है।

नोट: जून 2024 में, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने FY25 की अपनी दूसरी द्विमासिक मौद्रिक नीति में FY25 के लिए भारत के GDP विकास पूर्वानुमान को 7% से बढ़ाकर 7.2% कर दिया।
भारत-विशिष्ट:
i.रिपोर्ट के अनुसार, भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना रहेगा, लेकिन इसकी GDP वृद्धि में नरमी आने की उम्मीद है। यह नरमी मुख्य रूप से उच्च आधार से निवेश में मंदी के कारण है।
ii.रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि अगले 3 वित्तीय वर्षों अर्थात् FY25, FY26 और FY27 के लिए विकास दर औसतन 6.7% प्रति वर्ष पर स्थिर रहने की संभावना है।

  • यह नरमी (FY25 और FY27 के बीच) मुख्य रूप से उच्च आधार से निवेश में मंदी के कारण है।

iii.इसने यह भी अनुमान लगाया कि निजी क्षेत्र के साथ मजबूत सार्वजनिक निवेश के साथ अगले 3 वर्षों तक निवेश मजबूत रहने की उम्मीद है।
iv.इसने यह भी अनुमान लगाया कि राजस्व में वृद्धि के कारण आंशिक रूप से भारत के राजकोषीय घाटे में GDP के सापेक्ष कमी होने की संभावना है।
वैश्विक परिदृश्य:
i.रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि FY25 में वैश्विक विकास 2.6% पर स्थिर रहेगा। स्थिर वैश्विक विकास का यह अनुमान भू-राजनीतिक तनाव और उच्च ब्याज दरों के बावजूद 3 वर्षों में पहली बार होगा।

  • व्यापार और निवेश में मामूली वृद्धि के बीच वैश्विक विकास दर FY26 में मामूली रूप से बढ़कर 2.7% होने और FY27 के लिए समान रहने की उम्मीद है।

ii.रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि वैश्विक मुद्रास्फीति मध्यम रहेगी क्योंकि उन्नत अर्थव्यवस्थाओं और उभरते बाजार और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं (EMDE) दोनों में केंद्रीय बैंक नीति दरों को कम करने में सतर्क रहेंगे।

  • इसने यह भी अनुमान लगाया कि वैश्विक ब्याज दरें उच्च रहेंगी यानी FY26 के लिए औसतन 4% के आसपास रहेंगी।

iii. रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि दक्षिण एशिया क्षेत्र के लिए GDP वृद्धि 6.6% (2023 में) से घटकर 6.2% (2024 में) हो जाएगी।

  • यदि भारत की GDP वृद्धि स्थिर रहती है, तो दक्षिण एशिया क्षेत्र के लिए GDP वृद्धि FY26 के लिए 6.2% पर रहेगी।
  • हालांकि, दक्षिण एशिया क्षेत्र के लिए रिपोर्ट में उन संभावित जोखिमों: जैसे भू-राजनैतिक तनाव के साथ-साथ जलवायु परिवर्तन के कारण वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि, संयुक्त राज्य अमरीका की वृद्धि दर से अधिक और मुद्रास्फीति में तेजी से कमी,  के प्रति सावधान किया गया है जो इसके विकास में बाधा बन सकते हैं।

iv.रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि 2024 में US अर्थव्यवस्था 2.5%की दर से बढ़ेगी, जो इसके पिछले अनुमान से 1.6% अधिक है।

विश्व बैंक के बारे में:
अध्यक्ष- अजय बंगा
मुख्यालय- वाशिंगटन, DC, संयुक्त राज्य अमेरिका (USA)
स्थापना- 1944

अदानी डिफेंस एंड एयरोस्पेस ने भारत और UAE में R&D सुविधाएं स्थापित करने के लिए EDGE ग्रुप के साथ समझौता किया
अदानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (AEL) की डिफेंस सब्सिडियरी कंपनी अदानी डिफेंस एंड एयरोस्पेस ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में अग्रणी उन्नत टेक्नोलॉजी और डिफेंस ग्रुप्स में से एक EDGE ग्रुप के साथ एक सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किए।

  • इसका उद्देश्य दोनों कंपनियों की डिफेंस और एयरोस्पेस क्षमताओं का लाभ उठाते हुए एक अंतर्राष्ट्रीय मंच स्थापित करना है, ताकि मिसाइलों, हथियारों, मानवरहित मंच आदि में उनकी विशेषज्ञता को जोड़ा जा सके और वैश्विक और स्थानीय ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा किया जा सके।

मुख्य बिंदु:
i.समझौते के अनुसार, दोनों कंपनियां अपने मुख्य उत्पाद डोमेन का मूल्यांकन करेंगी जैसे: मिसाइल और हथियार जिसमें हवाई, सतह, पैदल सेना, गोला-बारूद और एयर डिफेंस उत्पाद, मंच और प्रणाली शामिल हैं जिसमें अनमैन्ड एरियल सिस्टम्स (UAS), लोइटरिंग म्यूनिशन (LM), काउंटर ड्रोन सिस्टम (CDS), अनमैन्ड ग्राउंड व्हीकल (UGV), इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर (EW) और साइबर टेक्नोलॉजीज शामिल हैं।
ii.समझौते में भारत और UAE में अनुसंधान और विकास (R&D) सुविधाएं स्थापित करने के विकल्प का भी पता लगाया जाएगा।

  • इसमें डिफेंस और एयरोस्पेस समाधानों के विकास, उत्पादन और रखरखाव सुविधाओं की स्थापना भी शामिल है जो न केवल भारत और UAE के बाजारों को कवर करेगी बल्कि दक्षिण पूर्व एशियाई और व्यापक वैश्विक बाजारों को भी कवर करेगी।

IITH & जापान स्थित रेनेसास ने भारत में सेमीकंडक्टर इनोवेशन को बढ़ाने के लिए 3 साल के MoU पर हस्ताक्षर किए
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, हैदराबाद (IIT-H), तेलंगाना और जापान के उन्नत सेमीकंडक्टर समाधानों के अग्रणी आपूर्तिकर्ता रेनेसास इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ने बहुत बड़े पैमाने पर एकीकरण (VLSI) और एम्बेडेड सेमीकंडक्टर सिस्टम में अनुसंधान और सहयोग के लिए 3 साल के समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं।

  • इस साझेदारी का उद्देश्य भारत के सेमीकंडक्टर इकोसिस्टम को मजबूत करना और “मेक इन इंडिया” उद्देश्य का समर्थन करना है।

i.MoU का उद्देश्य भारत में एक आत्मनिर्भर सेमीकंडक्टर इंडस्ट्री का निर्माण करने के लिए प्रतिभा विकास को बढ़ावा देना और रेनेसास को भारत से प्रतिभाशाली कर्मचारियों की भर्ती करने में सक्षम बनाना है।
ii.इस MoU के तहत, रेनेसास विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम विकास और व्यावहारिक शिक्षा का समर्थन करना शुरू करेगा।
iii.IITH इंजीनियरिंग के छात्र 6 महीने की रेनेसास इंटर्नशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं और कंपनी के साथ पूर्णकालिक रोजगार प्राप्त कर सकते हैं।
हस्ताक्षरकर्ता: इस MoU पर IITH, तेलंगाना में मालिनी नारायणमूर्ति, भारत की कंट्री हेड और इंजीनियरिंग की वरिष्ठ निदेशक, एनालॉग & कनेक्टिविटी प्रोडक्ट ग्रुप, रेनेसास; और IITH के निदेशक प्रोफेसर B.S. मूर्ति ने हस्ताक्षर किए।
नोट: 2008 में स्थापित IIT-हैदराबाद, भारत के प्रमुख संस्थानों में से 23 IIT में से एक है।

AWARDS & RECOGNITIONS

AITA ने नर सिंह & रोहिणी लोखंडे को दिलीप बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया
ऑल इंडिया टेनिस एसोसिएशन (AITA) ने दिल्ली के टेनिस कोच नर सिंह को कोचिंग के लिए प्रतिष्ठित दिलीप बोस अवार्ड फॉर लाइफटाइम अचीवमेंट से सम्मानित किया है। वह इस अवार्ड के 11वें प्राप्तकर्ता हैं।

  • AITA ने महिला कोचों के लिए एक नया लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड पेश किया है और भारत की सबसे शुरुआती महिला कोचों में से एक, पुणे, महाराष्ट्र की रोहिणी लोखंडे को उद्घाटन अवार्ड प्रदान किया।
  • ये अवार्ड 11वीं राष्ट्रीय कोच कार्यशाला के दौरान प्रदान किए गए, जो 7-8 जून 2024 को पुणे, महाराष्ट्र में पूना यंग क्रिकेटर्स (PYC) हिंदू जिमखाना में आयोजित की गई थी।

नोट: 1920 में स्थापित AITA, इंटरनेशनल टेनिस फेडरेशन एंड एशियन टेनिस फेडरेशन से संबद्ध भारत में टेनिस का शासी निकाय है।

नर सिंह के बारे में: 
i.भारत के सबसे वरिष्ठ कोचों में से एक 65 वर्षीय नर सिंह ने 1986 से 2018 तक दिल्ली लॉन टेनिस एसोसिएशन के साथ मुख्य कोच और निदेशक (कोचिंग) के रूप में काम किया है।
ii.उन्हें 2008 से 2021 तक AITA कोच एजुकेशन के प्रशासक के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्होंने तीन दशकों से अधिक समय तक एक ट्रैवलिंग कोच के रूप में जूनियर भारतीय टीमों और खिलाड़ियों के साथ यात्रा की है।

रोहिणी लोखंडे के बारे में:
i.रोहिणी राष्ट्रीय खेल संस्थान से अर्हता प्राप्त करने वाली पहली महिला टेनिस कोच थीं। उन्होंने विभिन्न आयु समूहों में हजारों खिलाड़ियों को प्रशिक्षित किया है और कई लोगों को कोच के रूप में अर्हता प्राप्त करने में मदद की है।
ii.युवा उम्र में कोचिंग करने से पहले वह किरण बेदी, निरुपमा मांकड़, सुसान दास और उदय कुमार के साथ राष्ट्रीय टीम की सदस्य थीं।
दिलीप बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड के बारे में:
AITA ने प्रसिद्ध भारतीय टेनिस खिलाड़ी दिलीप बोस के सम्मान में दिलीप बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड 2002 की स्थापना की। इस अवार्ड में 50,000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाता है।
दिलीप बोस ने डेविस कप (1947) में भारत का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने 1949 में पश्चिम बंगाल (WB) में आयोजित उद्घाटन एशियन चैंपियनशिप (टेनिस) में पुरुष एकल का खिताब भी जीता। अपनी सेवानिवृत्ति के बाद, उन्होंने एक प्रशासक और कोच के रूप में काम किया।

APPOINTMENTS & RESIGNATIONS

विजया भारती सयानी ने NHRC, भारत के कार्यवाहक अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला; न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा सेवानिवृत्त
गृह मंत्रालय (MoHA) ने 2 जून 2024 से NHRC के नए अध्यक्ष की नियुक्ति तक भारत के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) के कार्यवाहक अध्यक्ष के रूप में विजया भारती सयानी की नियुक्ति को अधिसूचित किया।

  • उन्होंने  उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा से पदभार संभाला, जिनका NHRC के अध्यक्ष के रूप में कार्यकाल 1 जून 2024 को समाप्त हो गया था।
  • सयानी वर्तमान में दिसंबर 2023 से NHRC के सदस्य के रूप में कार्यरत हैं।
  • न्यायमूर्ति मिश्रा जून 2021 से NHRC के अध्यक्ष के रूप में कार्यरत हैं।

नोट: मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम, 1993 की धारा 7(1) के तहत प्रदत्त शक्तियों के प्रयोग में भारत के राष्ट्रपति द्वारा नियुक्ति को अधिकृत किया गया था।
विजया भारती सयानी के बारे में:
i.NHRC में सदस्य के रूप में शामिल होने से पहले, विजया भारती सयानी ने तेलंगाना उच्च न्यायालय में एक वकील के रूप में अभ्यास किया था।
ii.उन्होंने विभिन्न तेलुगु साप्ताहिक पत्रिकाओं और समाचार पत्रों में महिलाओं के मुद्दों पर 200 से अधिक लेख लिखे हैं।
न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा के बारे में:
i.1998-99 के दौरान, न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा बार काउंसिल ऑफ इंडिया (BCI) के सबसे कम उम्र के अध्यक्ष चुने गए थे।
ii.1999 में, उन्हें मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया और उन्होंने मध्य प्रदेश राज्य कानूनी सेवा प्राधिकरण (MPSLSA) के अध्यक्ष के रूप में भी कार्य किया।
iii.उन्होंने राजस्थान उच्च न्यायालय और कलकत्ता उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश (CJ) के रूप में कार्य किया है।
iv.उन्हें 2014 में भारत के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया और 2020 में अपनी सेवानिवृत्ति तक इस पद पर रहे।
भारत के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) के बारे में:
NHRC की स्थापना मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम (PHRA), 1993 के तहत मानवाधिकार संरक्षण (संशोधन) अधिनियम, 2006 द्वारा संशोधित की गई थी।
NHRC में एक अध्यक्ष, पाँच पूर्णकालिक सदस्य और सात मानद सदस्य होते हैं। यह क़ानून आयोग के अध्यक्ष और सदस्यों की नियुक्ति के लिए योग्यता निर्धारित करता है।
कार्यवाहक अध्यक्ष- विजया भारती सयानी
मुख्यालय- नई दिल्ली, दिल्ली
स्थापना- 12 अक्टूबर 1993

SCIENCE & TECHNOLOGY

भारत को स्वदेशी मैन पोर्टेबल काउंटर ड्रोन सिस्टम प्राप्त हुआ
10 जून 2024 को, भारतीय सेना को स्वदेशी रूप से विकसित अपनी तरह का पहला मैन पोर्टेबल काउंटर ड्रोन सिस्टम (MPCDS) प्राप्त हुआ। इसे भारतीय सेना से 100 करोड़ रुपये के समझौते के तहत बेंगलुरु स्थित AXISCADES टेक्नोलॉजीज लिमिटेड द्वारा डिज़ाइन और निर्मित किया गया है।
MPCDS के बारे में:
i.यह अपनी पोर्टेबिलिटी के मामले में अद्वितीय है क्योंकि यह बैटरी और मेन पावर दोनों पर काम करने की क्षमता है।
ii.यह कमांड & कंट्रोल और नेविगेशन जैसे फ़्रीक्वेंसी स्पेक्ट्रम की विस्तृत श्रृंखला को कवर करता है।
iii.यह 5 किलोमीटर (km) तक की सीमा के भीतर विभिन्न प्रकार के ड्रोन का पता लगाने और उन्हें जाम करने में सक्षम है।
महत्व:
i.रक्षा मंत्रालय (MoD) और रक्षा बलों का लक्ष्य अगले 5 वर्षों में भारत के भीतर 3000 करोड़ रुपये के अनुमानित निवेश के साथ आपातकालीन खरीद सहित अपने काउंटर-अनमैंड एरियल व्हीकल (C-UAV) क्षमताओं में सुधार करना है।
ii.AXISCADES टेक्नोलॉजीज लिमिटेड इस पहल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी क्योंकि कंपनी के पास इंटीग्रेटेड सेंसर और न्यूट्रलाइजेशन ऑप्शंस के साथ C-UAV पेशकश में विशेषज्ञता है।

SPORTS

टेनिस: फ्रेंच ओपन 2024: कार्लोस अल्काराज़ ने पुरुष एकल खिताब & इगा स्वियाटेक ने महिला एकल खिताब जीता
स्पेनिश टेनिस खिलाड़ी कार्लोस अल्काराज़ (21 वर्षीय) ने फ्रांस के पेरिस में स्टेड रोलैंड गैरोस में आयोजित फाइनल में जर्मनी के अलेक्जेंडर ज़ेवरेव को हराकर फ्रेंच ओपन 2024 (जिसे रोलैंड-गैरोस के नाम से भी जाना जाता है) में पुरुष एकल खिताब जीता।

  • 2024 फ्रेंच ओपन 26 मई से 9 जून 2024 तक पेरिस, फ्रांस में स्टेड रोलैंड गैरोस में आयोजित किया गया था।

फ्रेंच ओपन 2024 के विजेता:
i.पोलैंड की वर्ल्ड नंबर 1 इगा स्वियाटेक ने इटली की जैस्मीन पाओलिनी को हराकर 2024 फ्रेंच ओपन में महिला एकल खिताब जीता। यह उनका चौथा फ्रेंच ओपन खिताब और 5वां ग्रैंड स्लैम खिताब है।
ii.एल साल्वाडोर के मार्सेलो अरेवालो और क्रोएशिया के मेट पैविक ने इतालवी जोड़ी सिमोन बोलेली और एंड्रिया वावस्सोरी को हराकर पुरुष युगल खिताब हासिल किया। यह इस जोड़ी का पहला ग्रैंड स्लैम खिताब है।
iii.कोको गॉफ (संयुक्त राज्य अमेरिका-USA) और कतेरीना सिनियाकोवा (चेक गणराज्य) ने इतालवी जोड़ी जैस्मीन पाओलिनी और सारा एरानी को हराकर फ्रेंच ओपन का महिला युगल खिताब जीता।
iv.जर्मनी की लौरा सीगमंड और फ्रांस के एडौर्ड रोजर-वेसलिन ने दो बार के विंबलडन चैंपियन देसीरा क्राव्स्की (USA) और नील स्कूप्स्की (ब्रिटेन) को हराकर मिश्रित युगल का खिताब जीता।
>> Read Full News

ISSF वर्ल्ड कप 2024: सरबजोत सिंह ने स्वर्ण & सिफ्ट कौर समरा ने कांस्य पदक जीता; भारत ने दो पदक जीते
भारत ने 31 मई से 8 जून 2024 तक जर्मनी के म्यूनिख में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाजी खेल महासंघ (ISSF) वर्ल्ड कप 2024 (राइफल/पिस्टल) में 2 पदक (1 स्वर्ण और 1 कांस्य) जीते और पदक तालिका में तीसरा स्थान प्राप्त किया।

  • भारतीय निशानेबाज सरबजोत सिंह ने पुरुषों की 10m एयर पिस्टल श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता और भारतीय निशानेबाज सिफ्ट कौर समरा ने महिलाओं की 50m राइफल 3 पोजिशन श्रेणी में कांस्य पदक जीता।
  • चीन 11 पदक (4 स्वर्ण, 4 रजत और 3 कांस्य) के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर रहा, उसके बाद नॉर्वे 3 पदक (1 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य) के साथ दूसरे स्थान पर रहा और भारत और फ्रांस 2-2 पदक के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

नोट: ISSF वर्ल्ड कप की शुरुआत ISSF द्वारा 1986 में ओलंपिक निशानेबाजी प्रतियोगिताओं में योग्यता के लिए एक मंच प्रदान करने के लिए की गई थी।
सिफ्ट कौर समरा के बारे में: 
i.यह सिफ्ट कौर समरा का तीसरा ISSF वर्ल्ड कप कांस्य पदक है। उन्होंने इससे पहले 2023 (भोपाल, भारत) और 2022 (चांगवोन, दक्षिण कोरिया) में कांस्य पदक जीता है।
ii.उन्होंने चीन के हांग्जो में आयोजित 2023 एशियाई खेलों में महिलाओं की 50m राइफल 3-पोजिशन श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता है।
iii.उन्होंने बाकू, अजरबैजान में आयोजित ISSF वर्ल्ड चैम्पियनशिप 2023 में महिलाओं की 50m राइफल 3 पोजिशन में 5वां स्थान हासिल करके भारत के लिए पेरिस 2024 ओलंपिक कोटा हासिल किया। यह निशानेबाजी में भारत का छठा कोटा था
सरबजोत सिंह के बारे में:
i.यह ISSF वर्ल्ड कप में सरबजोत सिंह का दूसरा व्यक्तिगत और तीसरा समग्र स्वर्ण है।

  • इससे पहले उन्होंने 2023 (भोपाल, भारत) में अंडर 10m एयर पिस्टल पुरुष श्रेणी और 2023 (बाकू, अजरबैजान) में अंडर 10m एयर पिस्टल मिश्रित टीम श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता है।

ii.सरबजोत ने 2023 में चीन के हांग्जो में एशियाई खेलों में पुरुषों की 10m एयर पिस्टल टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने के लिए अर्जुन सिंह चीमा और शिवा नरवाल के साथ भागीदारी की।
iii.उन्होंने 2023 में कोरिया गणराज्य के चांगवोन में एशियाई निशानेबाजी चैम्पियनशिप में कांस्य पदक के साथ पुरुषों की 10m एयर पिस्टल में भारत के लिए पेरिस 2024 ओलंपिक कोटा भी हासिल किया है।
अंतर्राष्ट्रीय निशानेबाजी खेल महासंघ (ISSF) के बारे में:
ISSF राइफल, पिस्टल और शॉटगन (क्ले टारगेट) विषयों में ओलंपिक निशानेबाजी स्पर्धाओं और कई गैर-ओलंपिक निशानेबाजी खेल स्पर्धाओं का शासी निकाय है।
अध्यक्ष– लुसियानो रॉसी
मुख्यालय– म्यूनिख, जर्मनी

OBITUARY

प्रसिद्ध भारतीय जीवविज्ञानी & वन्यजीव संरक्षण कार्यकर्ता AJT जॉनसिंह का निधन हो गया
7 जून 2024 को, असीर जवाहर थॉमस जॉनसिंह जिन्हें A J T जॉनसिंह के नाम से भी जाना जाता है, एक प्रसिद्ध भारतीय जीवविज्ञानी और वन्यजीव संरक्षण कार्यकर्ता का 78 वर्ष की आयु में बेंगलुरु, कर्नाटक में निधन हो गया। उनका जन्म तमिलनाडु (TN) के तिरुनेलवेली जिले के नांगुनेरी में हुआ था।
AJT जॉनसिंह के बारे में:
i.AJT जॉनसिंह कर्नल एडवर्ड जेम्सजिमकॉर्बेट की कहानियों से बहुत प्रभावित थे, जो भारतीय वन्यजीवों पर आधारित थीं।
ii.वे देहरादून (उत्तराखंड) में वन्यजीव और उसके प्रबंधन पर शोध के लिए भारत के प्रमुख संस्थान भारतीय वन्यजीव संस्थान (WII) में संकाय सदस्य के रूप में शामिल हुए और डीन के रूप में सेवानिवृत्त हुए।
iii.अपनी सेवानिवृत्ति के बाद, वे वन्यजीव संरक्षण प्रयासों में सक्रिय थे और नेचर कंज़र्वेशन फाउंडेशन (NCF), वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर (WWF) इंडिया और कॉर्बेट फाउंडेशन (TCF) जैसे विभिन्न संरक्षण संगठनों से जुड़े थे।
iv.उन्होंने पश्चिमी घाट में स्थित कलक्कड़-मुंडनथुराई टाइगर रिजर्व (तमिलनाडु) की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
v.वे राजस्थान के सरिस्का बाघ अभ्यारण्य में सभी बाघों की मौत का खुलासा करने वाले प्राथमिक लोगों में से एक थे।
vi.उन्होंने वन्यजीव संरक्षण पर 70 से अधिक वैज्ञानिक पत्र और 80 से अधिक लोकप्रिय लेख लिखे हैं।
vii.उनका शोध मुख्य रूप से एशियाई हाथी, एशियाई शेर, गोरल, हिमालयी आइबेक्स, नीलगिरि तहर, सुस्त भालू, ग्रिजल्ड विशाल गिलहरी और नीलगिरि लंगूर पर केंद्रित था।
पुरस्कार & सम्मान:
i.उन्हें भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री से सम्मानित किया गया।
ii.उन्हें सोसाइटी फॉर कंजर्वेशन बायोलॉजी (SCB) से 2004 सरकार के लिए विशिष्ट सेवा पुरस्कार, 2005 में ABN AMRO अभ्यारण्य आजीवन वन्यजीव सेवा पुरस्कार मिला।
iii.उन्हें भारतीय वन्यजीवों के लिए आजीवन सेवा के लिए 2004 में कार्ल ज़ीस वन्यजीव संरक्षण पुरस्कार भी मिला।

BOOKS & AUTHORS

बिल गेट्स का संस्मरणसोर्स कोड: माई बिगिनिंग्सफरवरी 2025 में प्रकाशित होने वाला है
सोर्स कोड: माई बिगिनिंग्स, माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स का संस्मरण, पेंगुइन रैंडम हाउस की एक छाप एलन लेन द्वारा 4 फरवरी 2025 को प्रकाशित होने वाला है।

  • यह आधुनिक युग के सबसे प्रभावशाली और परिवर्तनकारी व्यापारिक नेताओं और परोपकारी लोगों में से एक की मूल कहानी।
  • यह संस्मरण उनके बचपन से लेकर 1975 में पॉल एलन के साथ माइक्रोसॉफ्ट के निर्माण तक के शुरुआती जीवन पर केंद्रित होगा।
  • पुस्तक की बिक्री से होने वाली सभी आय गैर-लाभकारी संस्था यूनाइटेड वे वर्ल्डवाइड को दान कर दी जाएगी।

IMPORTANT DAYS

पहला UN अंतर्राष्ट्रीय खेल दिवस – 11 जून 2024खेल की शक्ति का जश्न मनाने के लिए 11 जून 2024 को पहला संयुक्त राष्ट्र (UN) अंतर्राष्ट्रीय खेल दिवस (IDOP) मनाया गया। इस दिन का उद्देश्य मानव विकास और कल्याण में विशेष रूप से बच्चों के लिए खेल की आवश्यक भूमिका को संरक्षित, बढ़ावा देना और प्राथमिकता देना है।
पृष्ठभूमि:
i.25 मार्च 2024 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने 11 जून को अंतर्राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में घोषित करते हुए संकल्प A/RES/78/268 को अपनाया।
UNICEF: दुनिया भर में लगभग 400 मिलियन युवा बच्चे नियमित रूप से घर पर हिंसक अनुशासन का अनुभव करते हैं
संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) के नए अनुमानों के अनुसार, जो पहले अंतर्राष्ट्रीय खेल दिवस पर जारी किए गए, दुनिया भर में 5 वर्ष से कम आयु के लगभग 400 मिलियन बच्चे (10 में से 6 बच्चे) नियमित रूप से घर पर मनोवैज्ञानिक या शारीरिक दंड का सामना करते हैं। इनमें से लगभग 330 मिलियन बच्चे शारीरिक दंड का सामना करते हैं।
>> Read Full News

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2024 – 12 जून
संयुक्त राष्ट्र (UN) विश्व बाल श्रम निषेध दिवस प्रतिवर्ष 12 जून को दुनिया भर में मनाया जाता है, ताकि बाल श्रम की वैश्विक सीमा पर ध्यान केंद्रित करने और इसे समाप्त करने के लिए आवश्यक प्रयासों के बारे में जागरूकता बढ़ाई जा सके।

  • विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2024 का थीम लेट्स एक्ट ऑन आवर कमिटमेंट्स: एन्ड चाइल्ड लेबर! है।

पृष्ठभूमि: 
i.विश्व बाल श्रम निषेध दिवस की शुरुआत 2002 में ILO द्वारा की गई थी, जो सामाजिक न्याय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त मानव और श्रम अधिकारों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित एकमात्र त्रिपक्षीय संयुक्त राष्ट्र (UN) एजेंसी है।
ii.पहला विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 12 जून 2002 को मनाया गया था।
अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के बारे में:
महानिदेशक– गिल्बर्ट फ़ोसून हौंगबो
मुख्यालय– जिनेवा, स्विटज़रलैंड
स्थापित– 1919
>> Read Full News

UN ने 2025 को क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष घोषित किया
संयुक्त राष्ट्र (UN) ने क्वांटम विज्ञान और इसके अनुप्रयोगों के महत्व के बारे में वैश्विक स्तर पर लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए आधिकारिक तौर पर 2025 को क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष (IYQ) घोषित किया है।

  • UN द्वारा घोषित यह IYQ आधुनिक क्वांटम यांत्रिकी के 100 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय वैज्ञानिक समाजों को एकजुट करता है।
  • IYQ एक वैश्विक पहल है जिसका उद्देश्य बुनियादी विज्ञान और विज्ञान शिक्षा में राष्ट्रीय क्षमताओं को मजबूत करना है।

साल भर चलने वाली यह पहल क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी के योगदान और ऊर्जा, शिक्षा, संचार और मानव स्वास्थ्य में स्थायी समाधान विकसित करने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका को उजागर करेगी।
नोट: यह निर्णय मई 2023 में मैक्सिको के नेतृत्व में एक प्रस्ताव के बाद लिया गया है, जिसे संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) के आम सम्मेलन द्वारा अपनाया गया था और लगभग 60 देशों द्वारा इसका समर्थन किया गया था।
पृष्ठभूमि:
i.7 जून 2024 को, UN महासभा (UNGA) ने सर्वसम्मति से संकल्प A/78/L.70 को अपनाया, जिसमें 2025 को क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष घोषित किया गया।
ii.मई 2024 में, घाना राष्ट्र ने अंतर्राष्ट्रीय वर्ष की आधिकारिक घोषणा के लिए UNGA को औपचारिक रूप से एक मसौदा प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

  • इसने अपनी स्वीकृति से पहले 6 देशों (फिनलैंड, घाना, भारत, पेरू, दक्षिण अफ्रीका और तुर्कमेनिस्तान) से सह-प्रायोजन प्राप्त किया।

iii.यह UN द्वारा घोषित IYQ जर्मन भौतिक विज्ञानी वर्नर हाइजेनबर्ग के ऐतिहासिक पेपर की शताब्दी मनाने के लिए राष्ट्रीय वैज्ञानिक समाजों को एकजुट करता है।
वैश्विक समर्थन:
इस घोषणा को प्रमुख वैज्ञानिक संघों से समर्थन मिला है, जिनमें निम्नलिखित शामिल हैं:

  • अंतर्राष्ट्रीय शुद्ध और अनुप्रयुक्त भौतिकी संघ (IUPAP);
  • अंतर्राष्ट्रीय शुद्ध और अनुप्रयुक्त रसायन विज्ञान संघ (IUPAC);
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिस्टलोग्राफी संघ (IUCr); और
  • अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी इतिहास और दर्शन संघ (IUHPST)।

भविष्य की पहल:
i.यह घोषणा वैश्विक स्तर पर व्यक्तियों, संगठनों और सरकारों को 2025 को क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी के बारे में जागरूकता बढ़ाने के अवसर के रूप में उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करती है।
ii.IYQ संचालन समिति दुनिया भर में शैक्षिक और उत्सव कार्यक्रमों की योजना बनाती है।
क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी क्या है?
i.यह 21वीं सदी का एक महत्वपूर्ण वैज्ञानिक अनुशासन है। यह भौतिकी, रसायन विज्ञान, पदार्थ विज्ञान, जीव विज्ञान, सूचना विज्ञान आदि जैसे विभिन्न क्षेत्रों का आधार है।
ii.इसके मूल में, यह हमें भौतिक दुनिया को समझने में मदद करता है, सबसे छोटे कणों से लेकर ब्रह्मांड की संरचना तक।
नोट: क्वांटम विज्ञान UN के 2030 सतत विकास लक्ष्यों (SDG) को संबोधित करने के लिए भी महत्वपूर्ण है।

*******

Click the Image for our Daily CA Video

Current Affairs Today (AffairsCloud Today)

Current Affairs 13 जून 2024 Hindi
SBI ने MSME क्षेत्र के लिए SME डिजिटल बिजनेस लोन लॉन्च किया
RBI ने ऑफशोर फंड के लिए विदेशी निवेश संबंधों के मानदंडों में ढील दी
विश्व बैंक ने FY25 के लिए भारत के GDP वृद्धि अनुमान को संशोधित कर 6.6% किया
अदानी डिफेंस एंड एयरोस्पेस ने भारत और UAE में R&D सुविधाएं स्थापित करने के लिए EDGE ग्रुप के साथ समझौता किया
IITH & जापान स्थित रेनेसास ने भारत में सेमीकंडक्टर इनोवेशन को बढ़ाने के लिए 3 साल के MoU पर हस्ताक्षर किए
AITA ने नर सिंह & रोहिणी लोखंडे को दिलीप बोस लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया
विजया भारती सयानी ने NHRC, भारत के कार्यवाहक अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला; न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा सेवानिवृत्त
भारत को स्वदेशी मैन पोर्टेबल काउंटर ड्रोन सिस्टम प्राप्त हुआ
टेनिस: फ्रेंच ओपन 2024: कार्लोस अल्काराज़ ने पुरुष एकल खिताब & इगा स्वियाटेक ने महिला एकल खिताब जीता
ISSF वर्ल्ड कप 2024: सरबजोत सिंह ने स्वर्ण & सिफ्ट कौर समरा ने कांस्य पदक जीता; भारत ने दो पदक जीते
प्रसिद्ध भारतीय जीवविज्ञानी & वन्यजीव संरक्षण कार्यकर्ता AJT जॉनसिंह का निधन हो गया
बिल गेट्स का संस्मरण “सोर्स कोड: माई बिगिनिंग्स” फरवरी 2025 में प्रकाशित होने वाला है
पहला UN अंतर्राष्ट्रीय खेल दिवस – 11 जून 2024
विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2024 – 12 जून
UN ने 2025 को क्वांटम विज्ञान और प्रौद्योगिकी का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष घोषित किया




Exit mobile version