2020 में दुनिया भर में 275 मिलियन लोगों ने ड्रग्स का इस्तेमाल किया: UNODC रिपोर्ट

24 जून 2021 को, यूनाइटेड नेशंस ऑफिस ऑन ड्रग्स एंड क्राइम(UNODC) ने एक वर्ल्ड ड्रग रिपोर्ट 2021 जारी की, जिसमें कहा गया है कि 2020 में दुनिया भर में लगभग 275 मिलियन लोगों ने ड्रग्स का इस्तेमाल किया, जिनमें से 36.3 मिलियन या 13% लोग ड्रग के उपयोग से संबंधित विकारों से पीड़ित थे।

  • रिपोर्ट में दवा शब्द को अंतरराष्ट्रीय दवा नियंत्रण सम्मेलनों के तहत नियंत्रित पदार्थों और उनके गैर-चिकित्सा उपयोग के रूप में संदर्भित किया गया है।

प्रमुख बिंदु:

i.नवीनतम वैश्विक अनुमानों के अनुसार, 15 से 64 के बीच के लगभग 5.5% लोगों ने 2020 में कम से कम एक बार दवाओं का उपयोग किया है।

ii.विश्व स्तर पर, अनुमान है कि 11 मिलियन से अधिक लोग दवाओं का इंजेक्शन लगाते हैं, जिनमें से आधे हेपेटाइटिस C से पीड़ित हैं।

iii.कोरोनावायरस महामारी के दौरान भांग के उपयोग में वृद्धि हुई थी।

iv.नशीली दवाओं के उपयोग के कारण ओपिओइड बीमारी के सबसे बड़े बोझ में योगदान करते हैं।

v.वर्ष 2020 में फार्मास्युटिकल दवाओं के गैर-चिकित्सा उपयोग में भी वृद्धि हुई है।

vi.इस बीच, दुनिया भर में नए साइकोएक्टिव पदार्थों (NPS) की संख्या 2013 में 163 से गिरकर 2019 में 71 हो गई।

दशक (2010-2019) के प्रमुख आंकड़े:

i.विश्व स्तर पर, 2010-2019 के बीच ड्रग्स का उपयोग करने वालों की संख्या में 22% की वृद्धि हुई।

ii.पिछले एक दशक में भांग के उपयोगकर्ताओं की संख्या में लगभग 18% की वृद्धि हुई है।

iii.Fentanyl और इसके एनालॉग्स के परिणामस्वरूप अधिकांश मौतें हुईं।

इस वृद्धि के पीछे कारण:

i.COVID-19 संकट: 2020 में COVID-19 संकट के कारण 255 मिलियन लोगों की नौकरी चली गई, जबकि 100 मिलियन लोगों को दुनिया भर में अत्यधिक गरीबी में धकेल दिया गया। इससे मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति में भी वृद्धि हुई जिसके परिणामस्वरूप नशीली दवाओं के उपयोग में वृद्धि हुई और नशीली दवाओं के उपयोग के विकारों में वृद्धि हुई।

ii.दवाओं के लिए ऑनलाइन पहुंच: COVID-19 के दौर में दवाओं की ऑनलाइन बिक्री आसान हो गई है। उनकी ऑनलाइन वर्थ सालाना 315 मिलियन डॉलर हो जाती है।

हाल के संबंधित समाचार:

यूनाइटेड नेशंस पापुलेशन फंड(UNFPA) ने अपनी फ्लैगशिप रिपोर्ट स्टेट ऑफ वर्ल्ड पापुलेशन 2021 लॉन्च की है जिसका शीर्षक है “मै बॉडी इस मै ओन– क्लाइमिंग द राइट टू ऑटोनोमी एंड सेल्फ डेटर्मिनेशन”। यह संयुक्त राष्ट्र (UN) की पहली रिपोर्ट है जो बोडिली ऑटोनोमी पर केंद्रित है।

यूनाइटेड नेशंस ऑफिस ऑन ड्रग्स एंड क्राइम (UNODC) के बारे में:

कार्यकारी निदेशक घड़ा फाठी वाली
मुख्यालय– वियना, ऑस्ट्रिया





error: Alert: Content is protected !!