विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2021 – 12 जून

बाल श्रम की वैश्विक सीमा और बाल श्रम को खत्म करने के लिए आवश्यक कार्रवाई और प्रयासों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र (UN) का विश्व बाल श्रम निषेध दिवस प्रतिवर्ष 12 जून को दुनिया भर में मनाया जाता है।

  • संयुक्त राष्ट्र ने 2021 को बाल श्रम उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय वर्ष घोषित किया है।
  • ऐक्ट नाउ: एंड चाइल्ड लेबर विषय पर आधारित, अंतर्राष्ट्रीय श्रम सम्मेलन (ILC) द्वारा 2021 विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर एक उच्च-स्तरीय आभासी कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

पृष्ठभूमि:

i.विश्व बाल श्रम निषेध दिवस को औपचारिक रूप से अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) द्वारा 2002 में शुरू किया गया था।

ii.बाल श्रम के खिलाफ पहला विश्व दिवस 12 जून 2002 को मनाया गया था।

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2021:

i.बाल श्रम के खिलाफ विश्व दिवस 2021 के एक भाग के रूप में, बाल श्रम पर नए वैश्विक अनुमानों के शुभारंभ के साथ 10 से 17 जून तक एक वीक ऑफ ऐक्शन मनाया जाएगा।

ii.इस 2021 के विश्व दिवस और पूरे वर्ष की की गई कार्रवाई पर दक्षिण अफ्रीकी सरकार द्वारा आयोजित बाल श्रम पर 2022 के वैश्विक सम्मेलन में योगदान देगी।

iii.संयुक्त राष्ट्र सतत विकास लक्ष्यों ने 2025 तक बाल श्रम को उसके सभी रूपों में समाप्त करने के लिए लक्ष्य 8.7 का आह्वान किया है।

दुनिया भर में बाल मजदूरों के मुद्दे:

i.दुनिया भर में लगभग 218 मिलियन बच्चे पूर्णकालिक काम करते हैं और स्कूल नहीं जाते हैं।

ii.इनमें से लगभग 50% बाल श्रमिक खतरनाक वातावरण, गुलामी, या जबरन श्रम के अन्य रूपों, मादक पदार्थों की तस्करी और वेश्यावृत्ति सहित अवैध गतिविधियों के साथ-साथ सशस्त्र संघर्ष में शामिल होते हैं।

iii.दुनिया भर में हर 10 में से लगभग 1 बच्चा काम करने के लिए मजबूर है।

हाल की रिपोर्ट:

i.अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने चाइल्ड लेबर ग्लोबल एस्टीमेट्स 2020, ट्रेंड्स एंड रोड्स फॉरवर्ड शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की, जिसमें कहा गया है कि 2020 तक वैश्विक स्तर पर लगभग 160 मिलियन बच्चे (63 मिलियन लड़कियां और 97 मिलियन लड़के) बाल श्रम में थे।

ii.UNICEF की रिपोर्ट रैपिड असेसमेंट ऑफ लर्निंग ड्युरिंग स्कूल क्लोजर्स इन कॉन्टेक्स ऑफ COVID में कहा गया है कि भारत में प्री-प्राइमरी से लेकर उच्च माध्यमिक शिक्षा तक लगभग 286 मिलियन छात्र (48% बालिका) COVID-19 सर्वव्यापी महामारी से स्कूल बंद होने के कारण प्रभावित हुए थे।

अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के बारे में:

महानिदेशक गाइ राइडर
मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड
स्थापना – 1919





error: Alert: Content is protected !!