पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने 5 रुपए में भोजन उपलब्ध कराने के लिए ‘मां’ योजना शुरू की

15 फरवरी, 2021 को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री (CM) ममता बनर्जी ने वस्तुतः ‘मां’ योजना शुरू की, जिसके तहत सरकार 5 रुपए की लागत से गरीबों और निराश्रितों के लिए रियायती पका हुआ भोजन प्रदान करेगी। राज्य सरकार ने इस योजना के लिए 100 करोड़ रु का एक बजट आवंटित किया है।

  • पश्चिम बंगाल सरकार प्रति प्लेट 15 रु का अनुदान वहन करेगी।
  • भोजन में चावल, दाल, एक सब्जी और अंडे की सब्जी शामिल है।

स्व-सहायता समूहों द्वारा संचालित सामुदायिक रसोई में पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर यह दिया जाएगा।

  • कैंटीन हर दिन दोपहर 1 बजे से दोपहर 3 बजे तक खुला रहेगा।

i.मां रसोई ने कोलकाता और मालदा, दक्षिण दिनाजपुर, पश्चिम मदिनीपुर और हावड़ा जैसे जिलों में कुछ स्थानों पर काम करना शुरू कर दिया है।

ii.सितंबर 2020 में, पश्चिम बंगाल ने राज्य में ‘दीदीर रानाघर’ नाम से एक पहल शुरू की थी, जो लॉकडाउन के दौरान नौकरी गंवाने वाले प्रवासी श्रमिकों को 5 रु में भोजन प्रदान करता था।

अन्य लॉन्च:

CM ने इस दौरान अन्य पहलों का भी शुभारंभ किया, वे हैं

  • WEBEL (पश्चिम बंगाल इलेक्ट्रॉनिक्स उद्योग विकास निगम लिमिटेड) का चार सूचना एवं प्रौद्योगिकी (IT) पार्क
  • कोलकाता के चित्तरंजन सेवा सदन अस्पताल में 100 बेड का मदर एंड चाइल्ड हब

हाल के संबंधित समाचार:

1 अक्टूबर, 2020 को पश्चिम बंगाल (WB) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सड़क मरम्मत के लिए ‘पथश्री अभियान’ शुरू किया।

पश्चिम बंगाल के बारे में:
झीलें – मिरिक झील, रबींद्र सरोबर झील और सेंकल झील

नदियाँ – हुगली, तीस्ता





error: Alert: Content is protected !!