दूध की खरीद को डिजिटल बनाने के लिए स्टेलप्प्स ने IPPB के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

23 फरवरी 2021 को, एक IIT (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान) मद्रास इंक्यूबेटेड डेयरी-टेक स्टार्टअप स्टेलप्प्स, ने डेयरी दूध खरीद मूल्य श्रृंखला को डिजिटाइज़ करने और दुग्ध संग्रह केंद्रों में बैंकिंग सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक(IPPB) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

उद्देश्य- लाखों अनबैंक्ड और कमज़ोर डेयरी किसानों के लिए वित्तीय सेवाओं की एक श्रृंखला तक पहुंच का विस्तार।

समझौता ज्ञापन के प्रावधान:

तमिलनाडु में पायलट प्रोजेक्ट

MoU के तहत, तमिलनाडु के धर्मपुरी जिले के 4 गांवों में एक ग्रीनफील्ड डेयरी में 200 किसानों के साथ एक पायलट परियोजना शुरू की गई है।

वित्तीय मुख्यधारा

इस साझेदारी के माध्यम से स्टेलप्प्स का लक्ष्य तमिलनाडु, ओडिशा, बिहार और राजस्थान के गांवों के किसानों को शीघ्र ही वित्त की मुख्यधारा में लाना है।

कैश एंड अन्य सेवाओं तक पहुंच

IPPB ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे डेयरी किसानों को नकदी और अन्य बैंकिंग सेवाओं जैसे जमा, आधार सक्षम भुगतान सेवाओं (AePS), घरेलू धन हस्तांतरण, बिल भुगतान और अन्य संबंधित सेवाओं तक पहुंच प्रदान करने में सक्षम करेगा।

लाभ

साझेदारी के तहत, स्थानीय डाकघर एक अधिकारी की नियुक्ति करेगा जो किसानों को बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए संबंधित दुग्ध संग्रह केंद्र का दौरा करेगा।

नोट

हाल ही में, स्टेलप्प्स ने राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में mooPay का शुभारंभ किया।

हाल के संबंधित समाचार:

27 जनवरी 2021 को, भारती AXA जनरल इंश्योरेंस ने भारतीय किसानों के लिए वन-स्टॉप-शॉप, कृषि सखा ऐप लॉन्च किया, जो उन्हें अपनी खेती की जरूरतों को पूरा करने के लिए प्रासंगिक जानकारी प्रदान करता है।

स्टेल्प्स के बारे में:

यह भारत में अपनी तरह का पहला स्टार्टअप है जो डेयरी आपूर्ति श्रृंखला के डिजिटलीकरण की दिशा में काम कर रहा है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO)- रंजीथ मुकुंदन
मुख्यालय- बैंगलोर, कर्नाटक
इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) के बारे में:
स्थापना- 2018
निदेशक और अध्यक्ष– प्रदीप्त कुमार बिसोई
MD & CEO– J वेंकटरमू
टैगलाइन– आपका बैंक, आपका द्वार
मुख्यालय- नई दिल्ली, दिल्ली





error: Alert: Content is protected !!